ओमप्रकाश बजाज की बाल-कविताओं का संग्रह

बाल-कविताओं का संग्रह: ओमप्रकाश बजाज

ब्लू व्हेल: ओमप्रकाश बजाज

कुछ समय से देश-विदेश में,
एक नया खतरा मंडरा रहा है।

जो हर किशोर-किशोरी के,
माता-पिता को बुरी तरह डरा रहा है।

किसी सिरफिरे के दिमाग की उपज,
यह खेल खेल नहीं मौत का बुलावा है।

अब तक कई मासूम नासमझ बच्चों को,
इसने मौत के जबड़े तक पहुंचाया है।

अपनों तक से छुपा कर नादान बच्चे,
उत्सुकतावश इसके जाल में फंस जाते हैं।

और फिर इसके मकड़जाल में जकड़ कर,
अपने हाथों अपनी कीमती जान गंवाते हैं।

बच्चो, भूल कर भी इस मौत के फंदे के,
निकट न जाना, न किसी को जान देना।

~ ओमप्रकाश बजाज

ब्लू व्हेल खेल या ब्लू व्हेल चैलेंज गैम, एक इंटरनेट “खेल” है जिसका कई देशों में मौजूद होने का दावा किया जा रहा है। खेल कथित तौर पर एक श्रृंखला मे होते हैं जिसमें खिलाड़ियों को कहने के लिये 50-दिन की अवधि में कई कार्य आवंटित किया जाता है, जिसकी अंतिम चुनौती में खिलाड़ी को आत्महत्या करने को बोला जाता है। शब्द “ब्लू व्हेल” बीच्ड व्हेल्स की घटना से आता है, जोकि आत्महत्या से जुड़ा हुआ था।

Check Also

Maharana Pratap Jayanti

वीर सिपाही: श्याम नारायण पाण्डेय की वीर रस कविता

Here is another excerpt from “” the great Veer-Ras Maha-kavya penned by Shyam Narayan Pandey. …