ओमप्रकाश बजाज की बाल-कविताओं का संग्रह

बाल-कविताओं का संग्रह: ओमप्रकाश बजाज

सात बहनें: ओमप्रकाश बजाज

भारत के पर्वोत्तर में 7 राज्य हैं
जो ‘सात बहनें’ कहे जाते हैं।

इनके नाम अरुणाचल प्रदेश,
असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर,
त्रिपुरा, मिजोरम कहलाते हैं।

अरुणाचल कहलाता है
उगते सूर्य का पर्वत और
ईटागर है इसकी राजधानी।

दिसपुर है असम की राजधानी,
मेघालय की राजधानी शिलांग है,
कोहिमा नागालैंड की और इंफाल
मणिपुर की राजधानी है।

अगरतला है त्रिपुरा की और,
आइजाल मिजोरम की राजधानी है।

~ ओमप्रकाश बजाज

पूर्वोत्तर के सात राज्यों को सेवन सिस्टर्स (सात बहने) कहा जाता है। इन सात राज्यों में कई पर्यटन स्थल हैं। जहाँ देश के बाकी हिस्सों, खास कर उत्तर भारत से काफी कम संख्या में सैलानी जाते हैं।

असाम: में काजीरंगा व मानस नेशनल पार्कों के अलावा ब्रहमपुत्र नदी में माजुली द्वीप और मैनचेस्टर ऑफ ईस्ट कहे जाने वाले सुवालकाची गांव है, जिसे दुनिया का सबसे बड़ा गांव माना जाता है। यहाँ का माजुली फेस्टिवल बहुत मशहूर है।

अरुणाचल प्रदेश तो देश के खूबसूरत राज्यों में माना जाता है। प्राकृतिक सुंदरता के अलावा बोध मठ के लिए यह दुनिया भर में प्रसिद्ध है।

नागालैंड मुख्य रूप से जनजातीय बहुल है, लेकिन अपनी संस्कृति के लिए जाने जाता है। कई बड़ी नदियाँ, तीन- चार हजार मीटर कि ऊँचाई वाली चोटियाँ इसे रोमांचक पर्यटन के शौकीनों के लिए आकर्षक बनाती हैं।

मिजोरम को नीले पहाड़ों की धरती और पूर्वोत्तर का गीत पंक्षी (Song bird of east) भी कहा जाता है। खुली धरती और धान के खेतों की चित्रकारी।

त्रिपुरा को राजधानी अगरतला के नीरमहल के अलावा त्रिपुरारी देवी व भुवनेश्वरी देवी के मंदिरों, बोद्ध मठों, रोक क्लीम्बिंग, महलों व झीलों के लिए जाना जाता है। वहीँ मणिपुर अपनी शाष्त्रीय नृत्य कला के अलावा प्राकृतिक खूबसूरती के लिए घुमा जा सकता है। यहाँ झीले हीं, झरने हैं, कांगला फोर्ट है, गोविन्द देव जी का मंदिर है। सिंगदा में देश का सबसे ऊँचा मिट्टी का बांध है।

मेघालय की गारों, खासी व जयंतीय पहाड़ियो, अपनी गुफाओं के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। भारत का सबसे सम्रद्ध गुफा तंत्र इस पहाड़ी में विद्यमान है। इनमे से एक तो 22 किमी लंबी है, जो उपमहाद्वीप में सबसे लंबी है। दरअसल यहाँ चार किमी से ज्यादा लंबी कई गुफाएं हैं। बाकी अपने जमींन छूते बादलों और झरनों के लिए मेघालय जाना ही जाता है।

Check Also

Easter Sunday - Ingeborg Bachmann

Easter Sunday: Old Classic Easter Poetry

Easter Sunday: Ingeborg Bachmann was born in Klagenfurt, in the Austrian state of Carinthia, the …