Ganesh Chaturthi Marathi Bhajan श्री गणेशाचे भजन

श्री गणेशाचे भजन: लोकप्रिय मराठी भजन

श्री गणेशाचे भजन: लोकप्रिय मराठी भजन

मंगलमूर्ती माझे आई, मजला ठाव द्याव पायीं॥१॥
सिद्धीबुद्धि मयुरामाई, मलजा ठाव द्यावा पायी॥२॥

श्रीगजानन जय गजानन, जय गजानन मोरया॥३॥
श्रीगणनाथ जय गणनाथ। मीं अपराधी घ्या पदरांत॥४॥

श्रीगजाननपद सेवावे, काया वाचा मनोभावें॥५॥
हेरंबमाय दाखवि पाय, दुजवीण मगेना करूं मीं काय॥६॥

गजानन, गजानना, पार्वतीच्या नंदना मोरया गजानना॥७॥
धांवत ये वा गणराया, दीनाते मज ताराया॥८॥

पायीं हळूहळू चाला, मुखानें गजानन बोला॥९॥
ज्याला म्हणती पुत्र शिवाच, तो हा गणपती मित्र जिवाचा॥१०॥

मोरया रे, बाप्पा मोरया रे, मोरया रे, बाप्पा मोरया रे॥११॥
गणपती बाप्पा मोरया, पुढल्या वर्षी लौकर या॥१२॥

गणेश चतुर्थी हिन्दुओं का एक प्रमुख त्यौहार है। यह त्यौहार भारत के विभिन्न भागों में मनाया जाता है किन्तु महाराष्ट्र में बडी़ धूमधाम से मनाया जाता है। पुराणों के अनुसार इसी दिन गणेश का जन्म हुआ था। गणेश चतुर्थी पर हिन्दू भगवान गणेशजी की पूजा की जाती है। कई प्रमुख जगहों पर भगवान गणेश की बड़ी प्रतिमा स्थापित की जाती है। इस प्रतिमा का नौ दिनों तक पूजन किया जाता है। बड़ी संख्या में आस पास के लोग दर्शन करने पहुँचते है। नौ दिन बाद गानों और बाजों के साथ गणेश प्रतिमा को किसी तालाब इत्यादि जल में विसर्जित किया जाता है।

आपको यह मराठी भजन “श्री गणेशाचे भजन”  कैसा लगा – आप से अनुरोध है की अपने विचार comments के जरिये प्रस्तुत करें। अगर आप को यह कविता अच्छी लगी है तो Share या Like अवश्य करें।

Check Also

Verses on Lord Ganesha - Pillaarayaastakamu

Verses on Lord Ganesha: Pillaarayaastakamu

Verses on Lord Ganesha: A legend explains why Ganesha is worshiped before any other deity …