Stories in Hindi

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर विशेष बाल कहानी: बंटी की दादी

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर विशेष

ना जाने कहाँ छुपा बैठा हैं ये, रोज का इसका यह तमाशा हैं… आवाज़ लगा लगा कर तो मेरा गला दुःख गया हैं… मीनू उसे ढूंढते हुए बगीचे तक आ गई थी। आम के पेड़ के पीछे छुपे बैठे तीन साल के बंटी को देखकर मीनू का गुस्सा सातवे आसमान पर पहुँच गया था। उसने ना आव देखा ना ताव …

Read More »

नन्हे बच्चों के लिए हिंदी बाल-कहानियाँ

How To Draw Cat

दादी और नानी की मीठी कहानियों का संसार इतना सुंदर और लुभावना है कि बाल-मन उससे बाहर निकलना ही नहीं चाहता। हर बालक यही चाहता है कि कहानी (छोटे बच्चों की कहानियां) बस चलती ही जाए। हर रात, सोने से पहले, नानी या दादी की गोदी में सिर रखकर कहानी सुनने की बातें कई बच्चों को परी-कथा जैसी लग सकती …

Read More »

आत्मविश्वास का रहस्य: आत्मविश्वास बढ़ाने पर प्रेरणादायक बाल-कहानी

आत्मविश्वास का रहस्य: आत्मविश्वास बढ़ाने पर प्रेरणादायक बाल-कहानी

सुमन दसवीं कक्षा का छात्र था। आज जब वह स्कूल से घर वापस लौटा तो देखा कि उसके बड़े भैया संजय जो कि एयरफोर्स में थे, एक महीने की छुट्टियों पर घर आए हुए थे। उसके भैया संजय का सिलैक्शन कोई तीन साल पहले इंडियन एयरफोर्स में हो गया था। ट्रेनिंग के बाद उनकी नियुक्ति असम में हुई थी। इस …

Read More »

अनोखी होली: होली के त्यौहार पर आधारित हिंदी बाल-कहानी

Children's Hindi Wisdom Story About Holi Festival अनोखी होली

होली का दिन था। अमन सुबह-सुबह अपनी साइकिल पर एक गली से गुजर रहा था। तभी किसी ने ऊपर से उस पर पानी फैंक दिया। अमन एकदम घबरा गया। उसने ऊपर देखा तो शरारती जग्गी खुशी से चिल्ला रहा था, “होली है“। अमन चुप रहा। वह ठिठुरता हुआ घर लौटा। दोबारा कपड़े पहन कर दूसरी गली से निकल गया। वास्तव …

Read More »

होली के त्योहार से जुड़ी कुछ बाल-कहानियाँ

Holi festival coloring pages

होली वाला बर्थडे: मंजरी शुक्ला ऐसे मनी होली: मंजरी शुक्ला होली: मंजरी शुक्ला मुस्कान की होली: मंजरी शुक्ला रंगों की होली: मंजरी शुक्ला होली वाला बर्थडे: मंजरी शुक्ला चुनमुन एक बहुत ही प्यारी और सुन्दर सी लड़की थी जिसके गोरे-गोरे गाल हमेशा कश्मीरी सेब की तरह लाल रहते थे और जब वह अपनी नीली आँखों को गोल गोल नचाकर देखती तो …

Read More »

नन्हे छोटू की बड़ी कहानी: मानवाधिकार पर बाल-कहानी

नन्हे छोटू की बड़ी कहानी: मानवाधिकार पर बाल-कहानी

सर्दी की छुट्टियाँ आ गई थी और रिमझिम के तो खुशी के मारे पैर ज़मीन पर ही नहीं पड़ रहे थे। उसके पापा उसे उसकी बेस्ट फ्रैंड स्वाति के घर छोड़ने के लिए तीन दिन के लिए तैयार हो गए थे। रिमझिम और स्वाति एक दूसरे के साथ जी भर कर मस्ती करना चाहती थी, इसलिए दोनों ही बहुत खुश …

Read More »

न्यू ईयर रिजोल्यूशन: मंजरी शुक्ला

न्यू इअर रिज़ोल्यूशन Children's Story about New Year Resolution

सुना है, इस बार नए साल पर सागर की मम्मी ने उसे एक जादुई मेज लाकर दी है – बिन्नी बोली। क्या कह रही हो, जादुई मेज – अमित बोला। और क्या देखा नहीं, उस मेज के आने के बाद से अब सागर कितना बदल गया है? हाँ… वो तो है… पढ़ाकू राम बन गया है अपना सागर तो… नेहा …

Read More »

O. Henry’s Suspense Thriller Story in Hindi बीस साल बाद

O. Henry's Suspense Thriller Story in Hindi बीस साल बाद

एक पुलिस अधिकारी बड़ी फुरती से सड़क पर गश्त लगा रहा था। रात के अभी मुशकिल से 10 बजे थे, लेकिन हलकी-हलकी  बारिश तथा ठंडी हवा के कारण सड़क पर बहुत कम आदमी नजर आ रहे थे। सड़क के एक छोर पर एक गोदाम था। जब पुलिस अधिकारी उस गोदाम के करीब पहुंचा तो उसके दरवाजे के पास उसने एक …

Read More »

मन्नत की दीवाली: मंजरी शुक्ला

Inspirational Hindi Story about Diwali Festival मन्नत की दीवाली

मैं आपसे कब से कह रही हूँ, पर आप मुझे इस दिवाली पर नई पेंसिल, नए पेन और नया बस्ता दिलवा ही नहीं रही है… मन्नत ने गुस्से से अपनी माँ से कहा। माँ भी दिवाली नज़दीक आने के कारण घर की साफ़ सफ़ाई कर रही थीI सुबह से लगातार काम करते हुए वो भी बुरी तरह थक चुकी थी, …

Read More »

परोपकार – श्री पारसनाथ सरस्वती

Hindi Moral Story about a School Teacher परोपकार

यह कहानी एक ऐसे व्यक्ति कि है जो बहुत गंदा रहता था। मैली धोती और फटा हुआ कुर्ता पहनता था। सिर पर कपड़े की टोपी पहनता था जिसमे एक सुराख भी था। वह बहुत बुड़ा हो गया था और उसकी कमर कमान बन गयी थी। बाल बिलकुल सफेद और मुंह में दांत भी न रहे थे। चहरे पर झुर्रियां पड़ी …

Read More »