Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » कोई भीगा है रंग से – समीर
कोई भीगा है रंग से - समीर

कोई भीगा है रंग से – समीर

दा रे दा रा रा, दाना ना ना ना

होली रे –४

सो : (कोई भीगा है रंग से कोई भीगा उमंग से
कोई भीगा है तरंग से कोई भीगा है भंग से ) –२

अ : ढोलना प्रीत की बोलियाँ बोलना

सो : तेरी झाँझरी झुन-झुन करे दिल का भ्रमर गुन-गुन करे
ऐसे ना दे गाली मुझे आई यहाँ रंगने तुझे
मस्तों की टोली रे
रा रा रा रंग
होली रे –४

दान दान दान दान दा

अ : आया परदेसी आया ऐसी सौग़ात लाया
धूम जिसकी मची गाँव में
धिरा ना

सो : गाये जोगीरा गाए नाचे सबको नचाये
बिना घुँघरू बाँधे पाँव में
झूमे ज़मीं झूमें गगन आई ख़ुशी सब हैं मगन
बेचैन मन पागल है तन देखे मुझे मारे गुलबदन
नैनों से गोली रे

तररम तररम तारा रा रा
होली रे –४

ता ना ना दे रे ना दे रे ना

नर ना ना नर ना ना
धूम धूम धूम धूम

होली रे –४

सो : म्हारे सपणों की डोली चोरी-चोरी सजा दे
गोरी छोरी बजा दे कँगना
धिन धिर ना

अ : म्हारा बईयाँ मरोड़े म्हारी चूड़ी को तोड़े
म्हारा पल्लू ना छोड़े साजणा

सो : थोड़ा तुझे तरसाऊँगा थोड़ा तुझे तड़पाऊँगा
सेहरा सजा के आऊँगा फागुन में ले जाऊँगा
मैं थारी डोली रे

तररम तररम तारा रा रा
होली रे –४

∼ समीर

चित्रपट : मुंबई से आया मेरा दोस्त (२००३)
गीतकार : समीर
संगीतकार : अनु मलिक
गायक : सोनू निगम, अलका याग्निक
सितारे : अभिषेक बच्चन, लारा दत्ता

Check Also

होली विशेष हिंदी बाल-कविता: हो हल्ला है होली है

होली विशेष हिंदी बाल-कविता: हो हल्ला है होली है

उड़े रंगों के गुब्बारे हैं, घर आ धमके हुरयारे हैं। मस्तानों की टोली है, हो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *