Tag Archives: Funny Songs in Hindi

गोविंदा आला रे आला: दही-हांडी स्पेशल हिंदी फ़िल्मी गीत

Janmashtami Dahi Handi Bollywood Song गोविंदा आला रे आला - राजिंदर कृष्ण

गोविंदा आला रे आला: दही-हांडी एक भारतीय त्यौहार है। यह साल के अगस्त महीने में मनाया जाता है। कुछ लोग, ज्यादातर युवक इकट्ठे होकर एक मानव पिरामिड बनाते हैं। इसके पश्चात् ऊपर एक दही से भरी हांडी लटकी होती है, उसे फोड़ते हैं। इस त्यौहार के भागीदारों को गोविन्दा कहा जाता है। दही-हांडी भारत के महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध …

Read More »

क्यों मो पे रंग की मारी पिचकारी: बहादुर शाह जफर

क्यों मो पे रंग की मारी पिचकारी: बहादुर शाह जफर

वैसे तो होली पूरे भारत में मनाई जाती है पर अलग-अलग सांस्कृतिक अंचलों की होली की अपनी खासियत है। हां, एक बात जो सभी जगहों की होली में सामान्य है, वह है महिलाओं और पुरुषों के बीच रंग खेलने के बहाने अनूठे विनोदपूर्ण और शरारत से भरे प्रसंग। ये प्रसंग शुरू से होली की पहचान से जुड़े रहे हैं। और …

Read More »

रंग बरसे भीगे चुनर वाली: हरिवंश राय बच्चन

रंग बरसे भीगे चुनर वाली: हरिवंश राय बच्चन

सिलसिला 1981 में बनी भारतीय हिन्दी भाषा की रूमानी नाट्य फ़िल्म है। इसका निर्देशन यश चोपड़ा ने किया और इसमें अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, रेखा, संजीव कुमार और शशि कपूर मुख्य कलाकार हैं। यह फिल्म उस समय के तीन सितारों अमिताभ-जया-रेखा के वास्तविक जीवन के कथित प्रेम त्रिकोण से बहुत प्रेरित है, जो उस समय के प्रेम प्रसंगों में सबसे …

Read More »

कोई भीगा है रंग से: समीर का होली पर फ़िल्मी गीत

कोई भीगा है रंग से - समीर

Mumbai Se Aaya Mera Dost is a 2003 Indian Hindi-language drama film starring Abhishek Bachchan, Lara Dutta and Chunky Pandey. The film is directed by Apoorva Lakhia. The film touched on the subject of the influence of television on village life. होली का त्यौहार आते ही पास पड़ोस में इस त्यौहार पर बनाए गए फिल्मी गीतों की धुनें सुनाई देने …

Read More »

अंग से अंग लगाना: आनंद बख्शी का होली फ़िल्मी गीत

अंग से अंग लगाना सजन - डर

अंग से अंग लगाना: आनंद बख्शी अरे जो जी में आए, तुम आज कर लो चाहो जिसे इन बाँहो में भर लो अंग से अंग लगाना सजन हमें ऐसे रंग लगाना गालों से ये गाल लगा के, नैनों से ये नैन मिला के होली आज मनाना सजन हमें ऐसे रंग लगाना अंग से अंग लगाना… ऊपर ऊपर रंग लगय्यो, ना …

Read More »

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी – मदर इण्डिया 1957 में बनी भारतीय फ़िल्म है जिसे महबूब ख़ान द्वारा लिखा और निर्देशित किया गया है। फ़िल्म में नर्गिस, सुनील दत्त, राजेंद्र कुमार और राज कुमार मुख्य भूमिका में हैं। फ़िल्म महबूब ख़ान द्वारा निर्मित औरत (१९४०) का रीमेक है। यह गरीबी से पीड़ित गाँव में रहने वाली औरत राधा की …

Read More »

मल दे गुलाल मोहे आई होली आई रे: इन्दीवर

मल दे गुलाल मोहे आई होली आई रे- इन्दीवर

मल दे गुलाल मोहे: कामचोर फिल्म से होली स्पेशल हिंदी गीत लता मंगेशकर: मल दे गुलाल मोहे -२ आई होली आई रे -२ किशोर कुमार: चुनरी पे रंग सोहे -२ आई होली आई रे -२ ल: सात रंग सात फूल आज मिले साथ रे कि: बजने लगी बाँसुरी जमने लगी बात रे ल: ओ भीगी-भीगी पवन सारी रे -२ आई …

Read More »

डू मी अ फेवर लेट्स प्ले होली: समीर

डू मी अ फेवर लेट्स प्ले होली - समीर

Waqt: The Race Against Time is a 2005 Indian Hindi-language comedy-drama film that was directed and produced by Vipul Amrutlal Shah. The film stars Amitabh Bachchan, Akshay Kumar, Priyanka Chopra, Shefali Shah, Rajpal Yadav and Boman Irani in the principal roles. The film, based on a Gujarati play by Aatish Kapadia, follows the journey of rich businessman who unexpectedly becomes …

Read More »

हुल्ले नी माइ हुल्ले दो बेरी पत्ता झुल्ले: लोहड़ी लोक गीत

Lohri Folk Song हुल्ले नी माइ हुल्ले दो बेरी पत्ता झुल्ले

Lohri is a popular winter time Punjabi folk festival, celebrated primarily by Sikhs and Hindus from the Punjab region in the northern part of Indian subcontinent. The significance and legends about the Lohri festival are many and these link the festival to the Punjab region. Many people believe the festival commemorates the passing of the winter solstice. Lohri marks the …

Read More »

सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा हो: लोहड़ी लोक गीत

Lohri Folk Song सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा हो

सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा होदुल्ला भट्टी वाला हो, दुल्ले ती विआई हो,शेर शकर पाई हो, कुड़ी दे जेबे पाई हो,कुड़ी कौन समेटे हो, चाचा गाली देसे होचाचे चुरी कुटी हो, जिम्मीदारा लूटी हो,जिम्मीदार सुधाये हो, कुड़ी डा लाल दुपटा हो,कुड़ी डा सालू पाटा हो, सालू कौन समेटे हो,आखो मुंडियों ताना ‘ताना’, बाग़ तमाशे जाना ‘ताना’,बागों मनु कोडी लबी …

Read More »