Diwali Songs: Hindu Culture & Tradition

Diwali Songs: Popular Bollywood Diwali Songs

Diwali Songs: Popular Bollywood Diwali SongsDiwali is a five-day extravaganza in India, the land of colorful festival. On the occasion of Diwali, people spread good cheer and indulge themselves in a number of activities, one of them being throwing parties and get together. While partying during the festive season, people would dance to the tune of peppy Diwali Songs that boost up their celebrating mood. Songs that carry the essence of the festival can better serve the purpose. In case you are looking for the lyrics of popular Diwali songs, go through the following lines.

Popular Diwali Songs – दिवाली के लोकप्रिय गीत

आयी है दिवाली लगे सजना: Diwali Songs [1]

Movie / Album: आमदनी अट्ठनी खर्चा रुपैया (2001)
Music By: हिमेश रेशमिया
Lyrics By: सुधाकर शर्मा
Performed By: अलका याग्निक, कुमार सानु, शान, स्नेहा पन्त, उदित नारायण

मेरे सजना फटाका फूटने वाला है (दे ताली)
आई है दिवाली, सुनो जी घरवाली
तेरे कंगने ने दिल धड़काया है
लगे सजना मेरा आज पगलाया है

तेरा श्रृंगार लाया बहार
आया रे आया तुझपे हमको प्यार
मर्दों का क्या, बेदर्दों का क्या
जानो तुम क्या होता है प्यार
क्यूं भला हम करे तुमपे ऐतबार
बोले होठों की लाली
डोले कानों की बाली
तेरी चुनरी ने जलवा दिखाया रे
लगे सजना मेरा…

चारों तरफ दीये जल रहे
देखो जी देखो ये क्या कह रहे
कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना
हम जानते हैं ये किस्सा पुराना
ना करो ये दिल्लगी छोड़ो सताना
तू ये माने ना माने, हम हैं तेरे दीवाने
देखो मौसम मोहब्बत का आया है
लगे सजना मेरा…

यारों मेरी मानो
मियाँ बीवी के रिश्तो को जानो
हो प्यारों ओ मेरे प्यारों
क्या है जीवन तुम ये पहचानो
छोड़ो छोड़ो छोड़ो तकरार
कर लो, कर लो, कर लो प्यार
हो चाहे नखरेवाली, घरवाली है घरवाली
सारा संसार इसमें समाया है

लगे सजना मेरा…

मेरे तुम्हारे सबके लिए हैप्पी दिवाली: Songs [2]

Movie / Album: होम डिलीवरी (2005)
Music By: विशाल शेखर
Lyrics By: विशाल ददलानी
Performed By: वैशाली, सूरज, सुनिधि चौहान, अपर्णा, दिव्या, सुर्थी

ये दिन जहां में हर कहीं
भर दे रोशनी उसी के प्यार की
दिल दिल से वो मिला दे
हर चेहरा वो खिला दे
रूत लाये आज खुशियों की
ये दिन जहां में…
मेरे तुम्हारे सबके लिये हैप्पी दिवाली
सारे सितारे उसके लिये हैप्पी दिवाली

हम सभी में हर किसी के दिल में है वही
हो ज़मीं या आसमां हो, वो है हर कहीं
रोशनी, रोशनी, रोशनी, ये भी उसी का नाम है
ये जहां, ये जहां, ये जहां, सारा उसी का काम है
उसने बनाई सबके लिये हैप्पी दिवाली…

उसने कहा के जब मैं कहूँ, आएगा वो मेरे लिये
क्यूँ ना भला मैं दूर रहूँ, आयेगा वो मेरे लिये
दुनिया मेरी ऐसे चमके
जैसे रोशनी ने रोशनी हो, भर दी हर कहीं
दुनिया सारी ऐसे महके
जैसे इस खुशी में हर कली हो महकी हर कहीं
आज जहाँ भी तुम रहो
चलो साथ हमारे अब कहो
Say हैप्पी दिवाली
आज मिले तुमसे कोई
उसे तुम भी बड़े दिल से मिलो
Say हैप्पी दिवाली
मेरे तुम्हारे सबके लिये हैप्पी दिवाली

आई दिवाली आई कैसे उजाले लाई: Diwali Songs [3]

Movie / Album: खजांची (1951)
Music By: मदन मोहन
Lyrics By: राजिंदर कृष्ण
Performed By: आशा भोंसले

आई दिवाली आई, कैसे उजाले लायी
घर-घर खुशियों के दीप जले

सूरज को शरमाये ये, चरागों की क़तारें
रोज़ रोज़ कब आती हैं, उजाले की ये बहारें
आरी सखी. आरी सखी. आज रात सखी बालम से
दिल जीते या दिल हारे
आई दिवाली आई…

रह-रह के फूटी फुलझड़ियाँ, लागे मेले रंगों के
कदम-कदम पे तीर चले हैं, जागे भाग पतंगों के
आरी सखी, आरी सखीआज रात को खुल के खेलें
हम भी खेल उमंगों के
आई दिवाली आई…

आई दिवाली दीपों वाली: Songs [4]

Movie / Album: महाराणा प्रताप (1946)
Music By: राम गांगुली
Lyrics By: स्वामी रमानंद
Performed By: खुर्शीद

आई दिवाली दीपों वाली
गाये सखियाँ, गाये सखियाँ
ओ परदेसी मेरी नीर भरी अँखियाँ

सारे देश में है अंधियारा, मेरे घर में है उजियारा
तुमने जबसे किया किनारा, मेरा कौन है सहारा
कोई ना माने, और ना जाने मन की बतियाँ
नीर भरी अँखियाँ
आई दिवाली दीपों वाली…

बचपन की जब याद सटाये, जवानी रो रो नीर बहाये
उसी नीर को तेल समझ के मन का दीप जलाये
दुखिया मन का दीप जलाये
किसी बहाने से ना जाये काली रतियाँ
नीर भरी अँखियाँ
आई दिवाली दीपों वाली…

लाखों तारे आसमान में: Diwali Songs [5]

Movie / Album: हरियाली और रास्ता (1962)
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics By: शैलेन्द्र
Performed By: मुकेश, लता मंगेशकर

लाखों तारे, आसमान में
एक मगर ढूंढे ना मिला
देख के दुनिया की दिवाली
दिल मेरा चुपचाप जला…

क़िस्मत का है, नाम मगर है, काम है ये दुनिया वालों का
फूंक दिया है चमन हमारे ख्वाबों और खयालों का
जी करता है खुद ही घोंट दे, अपने अरमानों का गला
देख के दुनिया की दिवाली…

सौ-सौ सदियों से लम्बी ये, घुम की रात नहीं ढलती
इस अंधियारे के आगे अब, ऐ दिल एक नहीं चलती
हँसते ही लूट गयी चांदनी, और उठते ही चाँद ढला
देख के दुनिया की दिवाली…

मौत है बेहतर इस हालत से, नाम है जिसका मजबूरी
कौन मुसाफिर तय कर पाया, दिल से दिल की ये दूरी
काँटों ही काँटों से गुज़रा, जो राही इस राह चला
देख के दुनिया की दिवाली…

Check Also

Diwali Diya: Hindu Culture & Tradition

Diwali Diya: Earthen Lamps For Diwali Decoration

Diwali Diya: Diya is a small earthen lamp primarily lit during Diwali, the festival of …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *