Tag Archives: Life And Time Songs for Students

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी

होली आयी रे कन्हाई: शकील बदायूंनी – मदर इण्डिया 1957 में बनी भारतीय फ़िल्म है जिसे महबूब ख़ान द्वारा लिखा और निर्देशित किया गया है। फ़िल्म में नर्गिस, सुनील दत्त, राजेंद्र कुमार और राज कुमार मुख्य भूमिका में हैं। फ़िल्म महबूब ख़ान द्वारा निर्मित औरत (१९४०) का रीमेक है। यह गरीबी से पीड़ित गाँव में रहने वाली औरत राधा की …

Read More »

मल दे गुलाल मोहे आई होली आई रे: इन्दीवर

मल दे गुलाल मोहे आई होली आई रे- इन्दीवर

मल दे गुलाल मोहे: कामचोर फिल्म से होली स्पेशल हिंदी गीत लता मंगेशकर: मल दे गुलाल मोहे -२ आई होली आई रे -२ किशोर कुमार: चुनरी पे रंग सोहे -२ आई होली आई रे -२ ल: सात रंग सात फूल आज मिले साथ रे कि: बजने लगी बाँसुरी जमने लगी बात रे ल: ओ भीगी-भीगी पवन सारी रे -२ आई …

Read More »

डू मी अ फेवर लेट्स प्ले होली: समीर

डू मी अ फेवर लेट्स प्ले होली - समीर

Waqt: The Race Against Time is a 2005 Indian Hindi-language comedy-drama film that was directed and produced by Vipul Amrutlal Shah. The film stars Amitabh Bachchan, Akshay Kumar, Priyanka Chopra, Shefali Shah, Rajpal Yadav and Boman Irani in the principal roles. The film, based on a Gujarati play by Aatish Kapadia, follows the journey of rich businessman who unexpectedly becomes …

Read More »

होली आई होली आई देखो होली आई रे: जावेद अख्तर

होली आई होली आई देखो होली आई रे - जावेद अख्तर

होली आई होली आई देखो होली आई रे: जावेद अख्तर ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे खेलो खेलो रंग है, कोई अपने संग है भीगा भीगा अंग है… हो होली आई, होली आई देखो होली आई रे ओ होली आई, होली आई देखो होली आई रे बहकी बहकी …

Read More »

Diwali Diya: Earthen Lamps For Diwali Decoration

Diwali Diya: Hindu Culture & Tradition

Diwali Diya: Diya is a small earthen lamp primarily lit during Diwali, the festival of lights. Also, known as ‘deep’, diya is traditionally made of clay. Lighting a deep during aarti is a custom in the Hindu culture. During Diwali, the earthen lamps are used for illuminating the entire home and premises, apart from aarti. The diya is filled with …

Read More »

Diwali Songs: Popular Bollywood Diwali Songs

Diwali Songs: Hindu Culture & Tradition

Diwali Songs: Popular Bollywood Diwali Songs – Diwali is a five-day extravaganza in India, the land of colorful festival. On the occasion of Diwali, people spread good cheer and indulge themselves in a number of activities, one of them being throwing parties and get together. While partying during the festive season, people would dance to the tune of peppy Diwali …

Read More »

New Year’s Day: U2 Song Lyrics & Video

New Year’s Day - U2

“New Year’s Day” is a song by Irish rock band U2. It is the third track on their 1983 album War and was released as the album’s lead single in January 1983. With lyrics written about the Polish Solidarity movement, “New Year‘s Day” is driven by Adam Clayton’s distinctive bassline and the Edge’s piano and guitar playing. It was the …

Read More »

Happy New Year: Pop Song by ABBA Group

Happy New Year Song - ABBA

ABBA are a Swedish pop group formed in Stockholm in 1972 by Agnetha Fältskog, Björn Ulvaeus, Benny Andersson and Anni-Frid Lyngstad. The group’s name is an acronym of the first letters of their first names. They became one of the most commercially successful acts in the history of popular music, topping the charts worldwide from 1974 to 1982. ABBA won …

Read More »

रुक जाना नहीं तू कहीं हार के: मजरूह सुल्तानपुरी

Majrooh Sultanpuri Inspirational Teacher's Day Song रुक जाना नहीं तू कहीं हार के

महान शायर और गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी का अपनी जिंदगी और शायरी के बारे में नजरिया कुछ ऐसा ही था जैसा कि उनका यह गीत कि ‘एक दिन बिक जाएगा माटी के मोल, जग में रह जाएंगे प्यारे तेरे बोल‘। मुशायरों और महफिलों में मिली शोहरत तथा कामयाबी ने एक यूनानी हकीम असरारूल हसन खान को फिल्म जगत का एक अजीम …

Read More »

साथी हाथ बढ़ाना: साहिर लुधियानवी का श्रमिक दिवस विशेष फ़िल्मी गीत

साथी हाथ बढ़ाना - साहिर लुधियानवी - Labour Day Film Song

नया दौर का एक यादगार गीत। फिल्म नया दौर आजादी के बाद देश में किस तरह के बदलाव आए और लोग किस तरह आधुनिकता की ओर अपने कदम बढ़ाने लगे थे, इसे भी समझाया गया था। यह फिल्म भारतीयों के संघर्ष की कहानी है, जिसे बखूबी पर्दे पर उतारा निर्देशक बी.आर. चोपड़ा ने. 1957 में आई इस फिल्म से सिनेमा …

Read More »