Stories in Hindi

Village Boy Who Changed Schoolmaster’s Mindset भीकू और मास्टरजी

Village Boy Who Changed Schoolmaster's Mindset भीकू और मास्टरजी

रामपुर गावं में एक स्कूल था। आसपास के बच्चे वही पढ़ने आया करते थे। वहां एक ही मास्टरजी थे, जो प्रधानाचार्य से लेकर चपरासी का काम बखूबी करते थे। क्योंकि उस गाँव में बिजली एवं पानी के घोर संकट के चलते जो भी शहर से आता था, वह उलटे पाँव भाग जाता था। मास्टरजी को बच्चे से लेकर बूढ़े तक …

Read More »

Hindi Wisdom Story about Bad Habits in Children शब्दों का जादू

मम्मी-पापा हैरान-परेशान थे। उनका इकलौता बेटा पप्पी झूठ बोलने लग गया था। कुछ दिन पहले पप्पी के पापा की जेब से 10 रुपए निकल गए थे। पहले तो उन्होंने इस बात का गंभीरता से न लिया जब परसों उसके मम्मी के पर्स में से 20 रुपए का एक नोट गायब पाया गया तो मम्मी-पापा की परेशानी और बढ़ गई। पापा …

Read More »

Story of Tenali Raman and Golden Peacock सुनहरा मोर

Story of Tenali Raman and Golden Peacock सुनहरा मोर

एक दिन विजयनगर के राजा, कृष्णदेवराय के एक दरबारी ने राजा से इनाम पाने की योजना बनाई। उसने एक बढ़िया चित्रकार से एक मोर पर सुनहरी रंग करवाया। चित्रकार ने मोर को रंग इस तरह से लगाया कि कोई भी उसे नकली नहीं बता सकता था। उन्होंने उस मोर को राजा के सामने पेश किया और कहा, “महाराज! यह जंगलों …

Read More »

Hindi Moral Story about India – A developing country टिड्डा और चींटी

Hindi Moral Story about India - A developing country टिड्डा और चींटी

एक समय की बात है एक चींटी और एक टिड्डा था। गर्मियों के दिन थे, चींटी दिन भर मेहनत करती और अपने रहने के लिए घर को बनाती, खाने के लिए भोजन भी इकठ्ठा करती जिस से की सर्दियों में उसे खाने पीने की दिक्कत न हो और वो आराम से अपने घर में रह सके, जबकि टिड्डा दिन भर मस्ती करता गाना गाता और चींटी को बेवकूफ समझता। …

Read More »

Kids Hindi Moral Story Giraffe जिराफ़

Kids Hindi Moral Story Giraffe जिराफ़

क्लास 6th के बच्चे बड़े उत्साहित थे, इस बार उन्हें पिकनिक पे पास के वाइल्डलाइफ नेशनल पार्क ले जाया जा रहा था। तय दिन सभी बच्चे ढेर सारे खाने -पीने के सामान और खेलने -कूदने की चीजें लेकर तैयार थे। बस सुबह चार बजे निकली और 2-3 घंटों में नेशनल पार्क पहुँच गयी। वहां उन्हें एक बड़ी सी कैंटर में …

Read More »

Motivational Hindi Story about Child Discrimination बेटी

Motivational Hindi Story about Child Discrimination बेटी

सुना तुमने कुछ अम्मा, पड़ोस वाले वर्मा जी के घर बेटी हुई है… कहते हुए शर्मा भाभी का मुँह विद्रूप हो उठा मानो बेटी ना हुई हो कोई साँप या छछूंदर पैदा हो गया हो। हमका तो समझ नहीं आवत है कि तीन-तीन बेटियों के बाद भी बेटा क्यों नहीं जन पा रही है। सत्तर के ऊपर हो चुकी मोहल्ले …

Read More »

Hasya Vyangya on Inflation in India महंगाई के साइड इफैक्ट

Hasya Vyangya on Inflation in India महंगाई के साइड इफैक्ट

बाजार में घुसते ही जिस चीज के दर्शन सबसे पहले होते हैं वह है महंगाई। महंगाई देख कर आदमी यह मानने को विवश हो जाता है कि दुनिया कितनी तेजी से तरक्की कर रही है। पहले जेब में पैसा लेकर बाजार जाते थे और सौदा थैले में भर कर लाते थे। आज थैला में भर कर पैसा ले जाओ, सौदा …

Read More »

Parent’s Day Special Hindi Moral Story for Kids लाइफबोट

Parent's Day Special Hindi Moral Story for Kids लाइफबोट

एक स्कूल में टीचर ने अपने छात्रो को एक कहानी सुनाई और बोली एक समय की बात है की एक समय एक छोटा जहाज दुर्घटना ग्रस्त हो गया। उस पर पति पत्नी का एक जोड़ा सफ़र कर रहा था। उन्होने देखा की जहाज पर एक लाइफबोट है जिसमे एक ही व्यक्ति बैठ सकता है, जिसे देखते ही वो आदमी अपनी …

Read More »

Hasya Vyang Story in Hindi आओ थोड़ा सा रो लें

Hasya Vyang Story in Hindi आओ थोड़ा सा रो लें

आज के तनाव भरे, वातावरण में, मेरा एक पड़ोसी जो शक्ल और अक्ल से बिलकुल जोकर लगता है, अचानक आ धमका और बोला – आओ यार आज थोड़ा सा रो ही लें, क्योंकि बीवी मायके चली गई है, टाइम है कि ससुरा काटे से कटने का नाम ही नहीं ले रहा। राम भरोसे की बात सुनकर मुझे आष्चर्य हुआ कि हर …

Read More »

Funny Hindi story about life without cell phone हमारे ज़माने में मोबाइल नहीं थे

Funny Hindi story about life without cell phone हमारे ज़माने में मोबाइल नहीं थे

चश्मा साफ़ करते हुए उस बुज़ुर्ग ने अपनी पत्नी से कहा हमारे ज़माने में मोबाइल नही थे…! पत्नी: पर ठीक पाँच बजकर पचपन मिनीट पर मैं पानी का ग्लास लेकर दरवाज़े पे आती और आप आ पहुँचते। पति: हाँ – मैंने तीस साल नौकरी की पर आज तक में समझ नही पाया कि मैं आता इसलिए तुम पानी लाती या तुम पानी लेकर आती इसलिये मैं …

Read More »