Amitabh Bachchan Quotes in Hindi अमिताभ बच्चन के अनमोल विचार

अमिताभ बच्चन के अनमोल विचार

अमिताभ बच्चन (जन्म: 11 अक्टूबर) बॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय अभिनेता हैं। 1970 के दशक के दौरान उन्होंने बड़ी लोकप्रियता प्राप्त की और तब से भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे प्रमुख व्यक्तित्व बन गए हैं। बच्चन ने अपने करियर में कई पुरस्कार जीते हैं, जिनमें तीन राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार और बारह फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार शामिल हैं। उनके नाम सर्वाधिक सर्वश्रेष्ठ अभिनेता फिल्मफेयर अवार्ड का रिकार्ड है। अभिनय के अलावा बच्चन ने पार्श्वगायक, फिल्म निर्माता और टीवी प्रस्तोता और भारतीय संसद के एक निर्वाचित सदस्य के रूप में १९८४ से १९८७ तक भूमिका की हैं। इन्होंने प्रसिद्द टी.वी. शो “कौन बनेगा करोड़पति” में होस्ट की भूमिका निभाई थी। बच्चन का विवाह अभिनेत्री जया भादुड़ी से हुआ है। इनकी दो संतान हैं, श्वेता नंदा और अभिषेक बच्चन, जो एक अभिनेता भी हैं और जिनका विवाह ऐश्वर्या राय से हुआ है।

  • मैं अपनी ज़िन्दगी जितना संभव हो उतने स्वाभाविक और सामान्य तरीके से व्यतीत कर सकता हूँ करता हूँ। लेकिन अगर दिन रात विवाद मेरे पीछे पड़े रहें तो मैं इसका कुछ नहीं कर सकता। मुझे कभी-कभी आश्चर्य होता है कि वे किस तरह ये सब करते हैं। मैं दाढ़ी बढ़ता हूँ और वह टाइम्स ऑफ़ इंडिया के सम्पादकीय में आ जाता है।
  • सच कहूँ तो मैं कभी ‘आइकन’, ‘सुपरस्टार’, इत्यदि विश्लेषणों के चक्कर में नहीं पड़ा। मैं हमेशा खुद को एक अभिनेता के रूप में देखता हूँ जो अपनी काबीलियत के अनुसार जितना अच्छा कर सकता है कर रहा है।
  • प्रिय टीवी मीडिया और मेरे घर के बाहर खड़ी वैन्स, कृपया इतना तनाव मत लीजिये और इतनी कड़ी मेहनत मत कीजिये।
  • यह एक रणक्षेत्र है, मेरा शरीर, जिसने बहुत कुछ सहा है।
  • मुझे कभी-कभी इस तथ्य से दुःख होता है कि मेरे पास एक पूर्ण और निरोग शरीर नहीं है।
  • मैंने बोफोर्स की वजह से राजनीति नहीं छोड़ी। मैंने राजनीती इसलिए छोड़ी क्योंकि मैं तुच्छ राजनीतिक खेल खेलना नहीं खेलना नहीं जानता। मैं तब भी नहीं जानता था और अब भी नहीं जानता हूँ।
  • मैं कभी भी अपने कैरियर को लेकर आश्वस्त नहीं रहा हूँ।
  • मैं कभी एक सुपरस्टार नहीं रहा और कभी इसमें यकीन नहीं किया।
  • ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो मुझे लगता है कि मैंने कई चीजें मिस कर दी हैं।
  • असल में मैं बस एक अभिनेता हूँ जो अपने काम से प्यार करता है और उम्र के बारे में ये सब बातें केवल मीडिया में पनपती हैं।
  • मुझे ऐश्वर्या के साथ रोमांस करने में ख़ुशी होगी। लेकिन मैं अट्ठावन साल का हूँ। इसलिए मुझे उनका पिता बनना होगा।
  • मैं जिन चीजों से गुजरा हूँ और जिस असाधारण तरीके से मेरे शरीर ने प्रतिक्रिया की वह अद्भुत है। आश्चर्य नहीं की मैं धार्मिक हो गया, क्योंकि आप नहीं जानते कि आपके साथ कुछ चीजें क्यों हो रही हैं और आपको नहीं पता की आप कैसे बाउंस बैक करते हैं।
  • हर किसी को स्वीकार करना चाहिए कि हमारी उम्र बढ़ेगी और उम्र का बढ़ना हमेशा प्रशंशापूर्ण नहीं होता।
  • जो थोड़े-बहुत लोग यथार्थवादी सिनेमा बनाते हैं, जो ऐसा सिनेमा बनाते हैं जो शायद पश्चिमी दर्शकों को अधिक स्वीकार्य है, वे बहुत कम हैं।
  • हमारी कहानियों के स्वरुप की वजह से से भारतीय अभिनेताओं को अच्छा अभिनय आना ज़रूरी है, और उन्हें भावनात्मक दृश्यों, थोड़ी कोमेडी, नाचना- गाना, एक्शन आना चाहिए, क्योंकि ये सब एक ही फिल्म का हिस्सा होते हैं। मैं कहूँगा कि कई मायनो होलीवुड अभिनेताओं की तुलना में भारतीय अभिनेताओं से अधिक अपेक्षा होती है।
  • मैं किसी तकनीक का प्रयोग नहीं करता; मैं अभिनय करने के लिए प्रशिक्षित नहीं किया गया। मैं बस फिल्मो में काम करना पसंद करता हूँ।

Check Also

कोरोना खत्म करने का दवा: पतंजलि की दिव्य कोरोनिल टैबलेट

बाबा रामदेव की दवा कोरोनिल से प्रतिबंध हटा, आयुष ने दी अनुमति

पतंजलि की कोरोनिल दवा पर प्रतिबंध हट गया है। योग गुरु रामदेव ने बुधवार को पतंजलि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *