Stories For Kids

नन्ही – Heart Touching Hindi Story of Little Spider

नन्ही - Heart Touching Hindi Story of Little Spider

बेबी मकड़ी नन्ही माँ के साथ दीवार पर बढ़ी जा रही थी। चढ़ते- चढ़ते नन्ही थक गई। वह माँ से बोली – “अब माँ, तुम यही पर जाला बना लो ना… मुझसे और चढ़ा नहीं जा रहा हैं। देखो मेरे नन्हे नन्हे पैर थक कितना गए हैं।” यह सुनकर माँ उसके भोलेपन पर हंस पड़ी और वहीँ पर जाला बनाने …

Read More »

अब्दाली की लूट – Invasion of Ahmad Shah Abdali

अब्दाली की लूट - Invasion of Ahmad Shah Abdali

अहमदशाह अब्दाली नादिरशाह का सेनापति था। जब नादिरशाह से सन 1739 में मुहम्मशाह रंगीले के समय दिल्ली को लूटा तो उस समय अब्दाली भी उस के साथ था। नादिरशाह कोहनूर हीरा और तख़्तेताऊस के अलावा सत्तर करोड़ रुपए की कीमत के हिरेजवाहरात, सोनाचांदी लूट कर ले गया था, अफगान सरदार अब्दाली ने इस लूट को अपनी आंखों से देखा था, …

Read More »

बाल की खाल – Hindi Mystery Story on House Theft

बाल की खाल - Hindi Mystery Story on House Theft

राजू की आदत थी, हर बात में बाल की खाल निकालने की, सो उस दिन भी सुबहसुबह जब बिल्लू ने आ कर बताया कि मनोहर चाचा के यहां चोरी हो गई है, तो वह तुरंत चालू हो गया, “कब.. और कैसे…?” “कल उन के यहां अखंड कीर्तन का पाठ था। सभी लोग थके थे। बस, रात में चोर घुसे और …

Read More »

आँखों ने पकड़वाया अपराधी को – Murder Mystery Story in Hindi

आँखों ने पकड़वाया अपराधी को - Murder Mystery Story in Hindi

“गुडमोर्निंग… गुडमोर्निंग… गुडमोर्निंग…” उसे देखते ही सभी पुलिस वाले एक के बाद एक सलाम करने लगे और वह विनम्र भाव से सब के अभिवादन का जवाब देता जा रहा था क्योंकि उस का दाहिना हाथ ओवरकोट की जेब में था, इसलिए सलाम के जवाब में वह बायां हाथ अपनी कैप तक ला कर जवाब दे रहा था। चलतेचलते वह अचानक …

Read More »

माली काका की नटखट मुनिया – An Inspirational Hindi Story

gardeners-daughter-inspirational-hindi-story

माली काका की नटखट मुनिया सारे गाँव की आँखों का तारा थी। कहीं अगर तुलसी का पौधा मुरझा रहा हो या फिर लाल सुर्ख गुलाबों की कलमें छांटनी हो तो चारों ओर मुनिया के नाम की गुहार लगती। नन्ही मुनिया झट से पहुँच जाती और जैसे ही उसके काम की तारीफ़ होती मुनिया फूल कर कुप्पा हो जाती और उसके …

Read More »

नमक का क़र्ज़ – डॉ. मंजरी शुक्ल

नमक का क़र्ज़ - डॉ. मंजरी शुक्ल

चारों ओर से धमाकों की आवाज़ आ रही थी। ऐसा लग रहा था मानो दीपावली हो, पर यह पटाखों की नहीं बल्कि हथगोलों और बंदूकों की आवाज़े थी। सन्नाटे को चीरती जब किसी जवान की बन्दूक चलने की आवाज़ आती तो मानों पनघट और चौबारे भी थरथरा उठते। इन्ही के बीच दस वर्षीय नन्हा बालक टीपू अपनी बूढी और अंधी …

Read More »

Sandy’s Dance – Dr. Manjari Shukla

Sandy’s Dance - Dr. Manjari Shukla

Sandy  was a great crowd puller because of his very unique dancing style. He was quite popular among his friends and fellow animals of jungle. All the birds and animals of jungle gathered at night in front of “The Yahoo Ice-cream Parlour” to enjoy Sandy’s dance. Sandy loved ice-cream and enjoyed dancing on it too. When he jumped into the …

Read More »

The Gold Chain – Dr. Manjari Shukla

The Gold Chain - Dr. Manjari Shukla

Tinu rabbit and Montu monkey were going to school happily, discussing about their favourite TV characters Tom and Jerry. Suddenly they noticed, Hiru dada riding his blue bicycle looking here and there. Tinu whispered – “I think, he had lost something. Something valuable I guess.” Montu nodded and replied in a low voice – “Yeah and how fast he was …

Read More »

एक नजर – शराफत अली खान

एक नजर - शराफत अली खान

जनाजे की तैयारी हो रही थी। छोटी बहू की लाश रातभर हवेली के अंदर नवाब मियां के कमरे में ही बर्फ पर रखी हुई थी। रातभर जागने से औरतों और मर्दों के चेहरे पर सुस्ती और उदासी छाई हुई थी। रातभर दूरदराज से लोग आतेजाते रहे और दुख जताने का सिलसिला चलता रहा। पूरी हवेली मानो गम में डूबी हुई …

Read More »

नेकी और नदी के बीच – राजकमल

नेकी और नदी के बीच - राजकमल

वह एक की ठंडी सुबह थी। सर्दियों की सुबहें लंबी होती हैं – लगभग दूसरे पहर तक। छोटा दिन, छोटी सी शाम और उसके बाद, लंबी रात! रविवार का दिन था। दस बजे थे। वैसे तो बाजार अभी बंद था लेकिन चाय के ठीये, तो कहीं छोले भठूरे और बेड़मी-जलेबी बनाने वाले हलवाइयों के कुछ नाके जरूर गुलजार थे। मैं …

Read More »