मेरी कविता - तमन्ना भसीन - Poetry about writing a poem for school magazine

मेरी कविता – तमन्ना भसीन – Poetry about writing a poem for school magazine

आज कक्षा में यह नोटिस आया,
मैडम ने यह फरमाया।
झट-पट से एक कविता लिखा ला,
विद्यालय पत्रिका में उसको छपवा।

मुझको कविता लिखना नहीं है आता,
सोच-सोच कर मन पछताया।
घर जाकर पापा को पकड़ा,
शोर मचाया कर लिया झगड़ा।

पास बैठाकर उनसे बोली,
मुझे लिखवा दो एक कविता।
उसको लेकर दौड़ी आई
मैडम को जल्दी दिखलाई।

उसे देखकर सब हर्षाए,
सबको मेरा गीत सुनाए।
लिख नहीं सकती, फिर लिख आई,
मैडम ने भी लाड़ लड़ाया।

~ तमन्ना भसीन (एल.के.जी.) St. Gregorios School, Sector 11, Dwarka, New Delhi – 110075

आपको तमन्ना भसीन की कविता “मेरी कविता” कैसी लगी – आप से अनुरोध है की अपने विचार comments के जरिये प्रस्तुत करें। अगर आप को यह कविता अच्छी लगी है तो Share या Like अवश्य करें।

यदि आपके पास Hindi / English में कोई poem, article, story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Id है: submission@4to40.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ publish करेंगे। धन्यवाद!

Check Also

Weekly Bhavishyafal

साप्ताहिक भविष्यफल स‍ितंबर 2021

साप्ताहिक भविष्यफल 19 – 25 स‍ितंबर, 2021 Weekly Bhavishyafal भविष्यफल स‍ितंबर 2021: पंडित असुरारी नन्द …