Hindi Wisdom Poem about Current Generation आज की पीढ़ी

Hindi Wisdom Poem about Current Generation आज की पीढ़ी

आज की पीढ़ी, चढ़ी नहीं सीढ़ी।
करती नही आदर सम्मान, न है संस्कारों का उन्हें ज्ञान।
पश्चिम भाषा से कराएं अपनी पहचान,
संस्कृति का तो दूर दूर तक नही है नामो – निशान।

आपस मैं भाई -भाई, करे बंटवारा और लड़ाई,
माँ -बाप है उनके लिए बोझ।
यही है आज की पीढ़ी की सोच,
उठो, जागो पश्चात के दीवानो,
अपनी सभ्यता और संस्कृति पहचानो।

ऐसे ही नही भारत महान,
तुम ही हो – हाँ, तुम ही हो,
महान भारत की संतान।

~ संजना (आठवी ‘ड’) St. Gregorios School, Gregorios Nagar, Sector 11, Dwarka, New Delhi

आपको संजना की यह कविता “आज की पीढ़ी” कैसी लगी – आप से अनुरोध है की अपने विचार comments के जरिये प्रस्तुत करें। अगर आप को यह कविता अच्छी लगी है तो Share या Like अवश्य करें।

यदि आपके पास Hindi / English में कोई poem, article, story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Id है: submission@4to40.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ publish करेंगे। धन्यवाद!

Check Also

Jugjugg Jeeyo: 2022 Indian Comedy Drama Film

Jugjugg Jeeyo: 2022 Indian Comedy Drama Film

Movie Name: Jugjugg Jeeyo Directed by: Raj Mehta Starring: Varun Dhawan, Kiara Advani, Anil Kapoor, …