बच्चों की रेल

Bachchon Ki Railबच्चों की यह रेल है, बड़ा अनोखा खेल है।

यह कोयला नहीं खाती है , इसे मिठाई भाती है।

यह नहीं छोड़ती धुआं, मुड़ जाती देख कर कुआँ।

चलते-चलते जाती रुक,

छुक-छुक, छुक-छुक, छुक-छुक, छुक-छुक।

Check Also

World Organ Donation Day Information

World Organ Donation Day Information

World Organ Donation Day in India is celebrated on 13th of August every year by …