Hindi Shayari

Hindi Shayari

मोहब्बत

बहुत देर कर दी तुमने दिल तोडने मेँ…
ना जाने कितने शायर आगे निकल गए।

उन दिल जलों कि कतार में तो ह्म भी हैं
लेकिन आगे नहीँ इतने जितने पीछे मिले मुझको!

खूबसूरत जिस्म हो, या सौ टका ईमान!
बेचने की ठान लो तो, हर तरफ बाज़ार है।

माशूक या मोहब्बत को तो लोग यूंही बदनाम करते है
जालिम कमरदर्द है जो कई कई रात जगाता है।

न जाने कहाँ गुज़रता है अब वक़्त उनका
जिनके लिए कभी हम वक़्त से भी ज़्यादा कीमती थे।

एक और शाम बीत चली है तुम्हे चाहते हुए…
तू आज भी बे-खबर है बीते हुए कल की तरह।

ज़िन्दगी के कुछ अनमोल सत्य

नज़र और नसीब का कुछ ऐसा इत्तफाक हैं कि
नज़र को अक्सर वही चीज़ पसंद आती हैं जो नसीब में नहीं होती
और नसीब में लिखी चीज़ अक्सर नज़र नहीं आती है

———————————————–

मैंने एक दिन भगवान से पूछा आप मेरी दुआ उसी वक्त क्यों नहीं सुनते हो जब मैं आपसे मांगता हूँ
भगवान ने मुस्कुरा कर के कहा मैं तो आप के गुनाहों की सजा भी उस वक्त नहीं देता जब आप करते हो

———————————————–

किस्मत तो पहले ही लिखी जा चुकी है तो कोशिश करने से क्या मिलेगा
क्या पता किस्मत में लिखा हो कि कोशिश से ही मिलेगा

———————————————–

ज़िन्दगी में कुछ खोना पड़े तो यह दो लाइन याद रखना
जो खोया है उसका ग़म नहीं

लेकिन

जो पाया है वो किसी से कम नहीं
जो नहीं है वह एक ख्वाब हैं
और
जो है वह लाजवाब है

———————————————–

इन्सान कहता है कि पैसा आये तो हम कुछ करके दिखाये
और
पैसा कहता हैं कि आप कुछ करके दिखाओ तो मैं आऊ

———————————————–

बोलने से पहले लफ्ज़ आदमी के गुलाम होते हैं
लेकिन
बोलने के बाद इंसान अपने लफ़्ज़ों का गुलाम बन जाता हैँ

———————————————–

ज्यादा बोझ लेकर चलने वाले अक्सर डूब जाते हैं
फिर चाहे वह अभिमान का हो या सामान का

———————————————–

जिन्दगी जख्मों से भरी है वक़्त को मरहम बनाना सीख लो
हारना तो है मौत के सामने फ़िलहाल जिन्दगी से जीना सीख लो

———————————————–

अगर जींदगी मे कुछ पाना हो तो…
तरीके बदलो…, ईरादे नही…

———————————————–

जब सड़क पर बारात नाच रही हो तो हॉर्न मार-मार के परेशान ना हो…
गाडी से उतरकर थोड़ा नाच लें…
मन शान्त होगा। टाइम तो उतना लगना ही है!

———————————————–

इस कलयुग में रूपया चाहे कितना भी गिर जाए,
इतना कभी नहीं गिर पायेगा, जितना रूपये के लिए इंसान गिर चूका है…
सत्य वचन….

———————————————–

रास्ते में अगर मंदिर देखो तो…
प्रार्थना नहीं करो तो चलेगा
पर
रास्ते में एम्बुलेंस मिले तब प्रार्थना जरूर करना…
शायद कोई जिन्दगी बच जाये

———————————————–

जिसके पास उम्मीद हैं,
वो लाख बार हार के भी,
नही हार सकता!

———————————————–

बादाम खाने से उतनी अक्ल नहीं आती…
जितनी धोखा खाने से आती है…..!

———————————————–

एक बहुत अच्छी बात जो जिन्दगी भर याद रखिये…
आप का खुश रहना ही आप का बुरा चाहने वालों के लिए सबसे बड़ी सजा है!

———————————————–

खुबसूरत लोग हमेशा अच्छे नहीं होते,
अच्छे लोग हमेशा खूबसूरत नहीं होते!

———————————————–

रिश्ते और रास्ते एक ही सिक्के के दो पहलु हैं…
कभी रिश्ते निभाते निभाते रास्ते खो जाते हैं…
और कभी रास्तो पर चलते चलते रिश्ते बन जाते हैं!

———————————————–

बेहतरीन इंसान अपनी मीठी जुबान से ही जाना जाता है…
वरना अच्छी बातें तो दीवारों पर भी लिखी होती है!

———————————————–

दुनिया में कोई काम “impossible” नहीं…
बस होसला और मेहनत की जरूरत हैl

———————————————–

पहले मैं होशियार था, इसलिए दुनिया बदलने चला था…
आज मैं समझदार हूँ, इसलिए खुद को बदल रहा हूँ।

———————————————–

एक पथ्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है और भगवान बन जाता है…
इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है फिर भी पथ्थर ही रहते है!

———————————————–

एक औरत बेटे को जन्म देने के लिये अपनी सुन्दरता त्याग देती है…
और वही बेटा एक सुन्दर बीवी के लिए अपनी माँ को त्याग देता है.

———————————————–

ज़िन्दगी पल-पल ढलती है, जैसे रेत मुट्ठी से फिसलती है…
शिकवे कितने भी हो हर पल, फिर भी हँसते रहना…
क्योंकि ये ज़िन्दगी जैसी भी है, बस एक ही बार मिलती है।

———————————————–

किसी रोज़ याद न कर पाऊँ तो खुदग़रज़ ना समझ लेना दोस्तों
दरअसल छोटी सी इस उम्र मैं परेशानियां बहुत हैं!

———————————————–

मैं भूला नहीं हूँ किसी को…
मेरे बहुत कम दोस्त है ज़माने मे,
बस थोड़ी जिंदगी उलझी पड़ी है…
2 वक़्त की रोटी कमाने में।

बेवफा सनम

औकात क्या है तेरी ऐ ज़िन्दगी
चार दिन की मोहब्बत तुझे तबाह कर देती है!

———————————————–

थोड़ी मुस्कुराहट उधार दे दे मुझे ऐ ज़िन्दगी
कुछ अपने आ रहे है – मिलने की रस्म निभानी है!

———————————————–

ऐ बुरे वक़्त ज़रा अदब से पेश आ
वक़्त नहीं लगता वक़्त बदलने में!

———————————————–

रोज़ कहा से लाऊ नया दिल,
तोड़ने वालो ने तो मज़ाक बना के रख दिया है!

———————————————–

टुकड़े पड़े थे राह में किसी हसीना की तस्वीर के,
लगता है कोई दीवाना आज समझदार हो गया!

———————————————–

हां है तो मुस्कुरा दे, ना है तो नज़र फेर ले,
यूँ शर्मा के नजर झुकाने से उलझने बढ़ जाती है!

Check Also

Jawahar Lal Nehru Death Anniversary - May 27

Jawahar Lal Nehru Death Anniversary Information

This year will mark death anniversary of country’s first Prime Minister Jawahar Lal Nehru on …

2 comments

  1. beautiful shayari
    lovely colection
    thank you for sharing

  2. Excellent blog! Do you have any recommendations for aspiring writers?