Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » चाँद सिफारिश – प्रसून जोशी
Chand Sifarish

चाँद सिफारिश – प्रसून जोशी

सुभान अल्लाह……

चांद सिफारिश जो करता हमारी देता वोह तुमको बता
शर्म-ओ-हया पे परदे गिरा के करनी है हमको खता
जिद्द है अब तोह है खुद को मिटाना होना है तुझमे फना
चांद सिफारिश जो करता हमारी देता वोह तुमको बता
शर्म-ओ-हया पे परदे गिरा के करनी है हमको खता

तेरी अदा भी है झोंके वाली छू के गुजर जाने दे
तेरी लचक है के जैसे डाली दिल मे उतर जाने दे
आजा बाहो मे करके बहाना होना है तुझमे फना
चांद सिफारिश जो करता हमारी देता वोह तुमको बता
शर्म-ओ-हया पे परदे गिरा के करनी है हमको खता

सुभान अल्लाह……

है जो इरादे बता दू तुमको शर्मा ही जाओगी तुम
धड़कने जो सुना दू तुमको घबरा ही जाओगी तुम
हमको आता नही है छुपाना होना है तुझमे फना
चांद सिफारिश जो करता हमारी देता वोह तुमको बता
शर्म-ओ-हया पे परदे गिरा के करनी है हमको खता
जिद्द है अब तोह है खुद को मिटाना होना है तुझमे फना

∼ प्रसून जोशी

चित्रपट : फना (2005)
गीतकार : प्रसून जोशी
संगीतकार : जतिन – ललित
गायक : शान, कैलाश खेर
सितारे : आमिर खान, काजोल

Rehan (Aamir Khan), a tour guide and notorious flirt, meets Zooni (Kajol), a blind Kashmiri woman. She determines to live independently and disregards her friends’ advice to ignore Rehan. He teaches her how to experience life to the fullest but, at the same time, he withholds a terrible secret that could destroy them both.

About Prasoon Joshi

प्रसून जोशी (जन्म: 16 सितम्बर 1968) हिन्दी कवि, लेखक, पटकथा लेखक और भारतीय सिनेमा के गीतकार हैं। वे विज्ञापन जगत की गतिविधियों से भी जुड़े हैं और अन्तर्राष्ट्रीय विज्ञापन कंपनी 'मैकऐन इरिक्सन' में कार्यकारी अध्यक्ष हैं। फ़िल्म ‘तारे ज़मीन पर’ के गाने ‘मां...’ के लिए उन्हें 'राष्ट्रीय पुरस्कार' भी मिल चुका है। प्रसून का जन्म उत्तराखंड के अल्मोड़ा ज़िले के दन्या गाँव में 16 सितम्बर 1968 को हुआ था। उनके पिता का नाम देवेन्द्र कुमार जोशी और माता का नाम सुषमा जोशी है। उनका बचपन एवं उनकी प्रारम्भिक शिक्षा टिहरी, गोपेश्वर, रुद्रप्रयाग, चमोली एवं नरेन्द्रनगर में हुई, जहां उन्होने एम.एससी. और उसके बाद एम.बी.ए. की पढ़ाई की। उनकी तीन पुस्तकें प्रकाशित हुई है। दिल्ली ६’, ‘तारे ज़मीन पर’, ‘रंग दे बसंती’, ‘हम तुम’ और ‘फना’ जैसी फ़िल्मों के लिए कई सुपरहिट गाने लिखे हैं। फ़िल्म ‘लज्जा’, ‘आंखें’, ‘क्योंकि’ में संगीत दिया है। ‘ठण्डा मतलब कोका कोला’ एवं ‘बार्बर शॉप-ए जा बाल कटा ला’ जैसे प्रचलित विज्ञापनों के कारण उन्हे अन्तर्राष्ट्रीय मान्यता मिली।

Check Also

Top 20 Bollywood Songs

July 2017 Top 20 Bollywood Songs

July 2017 Top 20 Bollywood Songs This Week Top 20 Bollywood Songs – Week Ending …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *