अगर ऐसा होता है तो धन, नाम और यश मिट्टी में मिल जाता है

अगर ऐसा होता है तो धन, नाम और यश मिट्टी में मिल जाता है

वास्तुशास्त्र अनुसार जब किसी व्यक्ति के निवास यां कार्यक्षेत्र का देव स्थान दूषित होता है अर्थात किसी के घर में उत्तर-पूर्व कोण में शौच बना हो, ईशानकोण में सूर्य का प्रकाश न आता हो यां ईशानकोण अत्यधिक भारी हो गया हो। जिस स्थल का उत्तर-पश्चिम कोण बंद हो अर्थात जहां वायु का आवागमन बंद हो। जिस स्थान पर पूर्व व पश्चिम दिशाएं बंद हो व प्रकाश के आवागमन में बाधा आती ऐसे स्थान का स्वामी लक्ष्मीहीन होकर दुर्भाग्य को पाता है।

शकुनशास्त्र के अनुसार घर में कुछ ऐसी अनहोनीयां हो जाएं तो घर-परिवार को घोर दरिद्रता का सामना करना पड़ता है उनका धन ही नहीं बल्कि नाम और यश भी मिट्टी में मिल जाता है।

  • घर से सोने का चोरी हो जाना।
  • घर की महिला का बार-बार गर्भपात होना।
  • नमकीन प्रदार्थों में काली चींटियों का पड़ जाना।
  • बार-बार दूध का उबल कर जमीन पर बह जाना।
  • घर में अचानक से घड़ियों का चलते-चलते बंद हो जाना।
  • घर की पश्चिम या उत्तर-पश्चिम दिशा में सीलन आना।
  • घर में आए हुए अतिथियों को निराश होकर घर से चले जाना।
  • शुभ कार्य में घर आए हुए किन्नरों का घर से रूठ कर चले जाना।
  • घर के पालतू पशुओं की बेवजह या समय से पहले मृत्यु हो जाना।
  • घर में पड़े हुए कांच या चीनि मिट्टी के बर्तनों का बार-बार तड़क कर टूट जाना।
  • टॉइलेट या वाशरूम नियमित साफ करने के बावजूद भी घर में दुर्गंध का फैलना।
  • घर में त्यौहार, पर्व या पूजा अनुष्ठान के वक्त आकस्मिक घर की महिलाओं का रजस्वला हो जाना।

Check Also

Shattila Ekadashi: Sat-tila or Tilda Ekadashi Information

Shattila Ekadashi: Sat-tila or Tilda Ekadashi Info

Shattila Ekadashi also referred to as Sat-tila-Ekadashi or Tilda Ekadashi derives its name from til …