Tag Archives: Desire Poems for Children

शिवा-बावनी: कवि भूषण द्वारा शिवाजी की शौर्यगाथा

शिवा-बावनी: कवि भूषण द्वारा शिवाजी की शौर्यगाथा

शिवा-बावनी: कवि भूषण द्वारा शिवाजी की शौर्यगाथा – कवि भूषण वैसे तो रीति काल के कवि थे लेकिन उस दौर में उनकी कलम वीर रस से सराबोर थी। माना जाता है कि भूषण कई राजाओं के यहां रहे और वहां सम्मान प्राप्त किया। पन्ना के महाराज छत्रसाल के यहाँ इनका बड़ा मान हुआ। भूषण ने प्रमुख रूप से शिवाजी और …

Read More »

चंद्रशेखर आजाद पर हिंदी कविता

चंद्रशेखर आजाद पर हिंदी कविता

चंद्रशेखर आजाद: सुशील कुमार शर्मा की हिंदी कविता तुम आजाद थे, आजाद हो, आजाद रहोगे, भारत की जवानियों के तुम खून में बहोगे। मौत से आंखें मिलाकर वह बात करता था, अंगदी व्यक्तित्व पर जमाना नाज करता था। असहयोग आंदोलन का वो प्रणेता था, भारत की स्वतंत्रता का वो चितेरा था। बापू से था प्रभावित, पर रास्ता अलग था, खौलता …

Read More »

खण्डकाव्य चंद्रशेखर आजाद कुछ चुनिंदा अंश: श्रीकृष्ण सरल

खण्डकाव्य चंद्रशेखर आजाद कुछ चुनिंदा अंश: श्रीकृष्ण सरल

श्रीकृष्ण सरल उन भारतीय कवियों और लेखकों में से एक हैं जिन्होंने भारतीय क्रांतिकारियों पर अनेक पुस्तकें लिखीं, जिनमें पन्द्रह महाकाव्य हैं। सरल जी ने अपना सम्पूर्ण लेखन भारतीय क्रांतिकारियों पर ही किया है। उन्होंने लेखन में कई विश्व कीर्तिमान स्थापित किए हैं। सर्वाधिक क्रांति-लेखन और सर्वाधिक महाकाव्य (पन्द्रह) लिखने का श्रेय सरलजी को ही जाता है। 1 जनवरी 1919 …

Read More »

राह कौन सी जाऊं मैं: अटल जी की चिंतन पर कविता

राह कौन सी जाऊं मैं: अटल जी की चिंतन पर कविता

There are dilemmas in life at every step. What to do? Which alternative to choose? And there are no authentic and correct answers. We must nonetheless make a choice. राह कौन सी जाऊं मैं: अटल बिहारी वाजपेयी चौराहे पर लुटता चीर‚ प्यादे से पिट गया वजीर‚ चलूं आखिरी चाल कि बाजी छोड़ विरक्ति रचाऊं मैं‚ राह कौन सी जाऊं मैं? …

Read More »

एक बरस बीत गया: अटल जी की नए साल पर कविता

एक बरस बीत गया - अटल बिहारी वाजपेयी

Another lovely poem by Atal Ji. One more year has passed by and one can just observe and feel inside the emptiness of this uninterrupted yet repetitive stream of passage of time… एक बरस बीत गया: अटल बिहारी वाजपेयी झुलसाता जेठ मास शरद चांदनी उदास सिसकी भरते सावन का अन्तर्घट रीत गया एक बरस बीत गया। सींकचों में सिमटा जग …

Read More »

Jingle Bells, Jingle Bells: Christmas Rhyme

Christmas Nursery Rhyme: Jingle Bells, Jingle Bells

We have provided fresh and unique Christmas rhymes for the kids studying in classes nursery, LKG or UKG. Using such rhymes on the Christmas festival you can make your kids ready for the Christmas celebration whether at home or school. Kids are very fond of the Christmas celebration as they get gifts from Santa in the night. All the Christmas …

Read More »

Last Christmas Tree: Poetry For School Children

Last Christmas Tree - Howard D. Fencl

Last Christmas Tree ~ Howard D. Fencl I saw a truck of Christmas treesAnd each one had a tale,The driver stood them in a rowAnd put them up for sale. He strung some twinkly lightsAnd hung a sign up with a nail;“FRESH CHRISTMAS TREES”It said in red“FRESH CHRISTMAS TREES FOR SALE.”He poured himself hot cocoaIn a steaming thermos cup,And snowflakes …

Read More »

Day After Christmas: Students Humorous Poem

The Day After Christmas

Twas the day after Christmas, and all through the house,Every creature was hurting – even the mouse.The toys were all broken, their batteries dead;Santa passed out, with some ice on his head.Wrapping and ribbons just covered the floor, whileUpstairs the family continued to snore.And I in my T-shirt, new Reebok and jeans,Went into the kitchen and started to clean.When out …

Read More »

श्वेत कबूतर: अचानक मिलने वाली खुशी पर कविता

श्वेत कबूतर: वीरबाला भावसार

श्वेत कबूतर कविता: It happens some times. We get suddenly and without expecting, some thing that we had longed for a long long time. Heart is thrilled, and it sings, and dances! Coming of a white pigeon is a metaphor of such a rare thrill. श्वेत कबूतर कविता: डॉ. वीरबाला मेरे आंगन श्वेत कबूतर! उड़ आया ऊंची मुंडेर से, मेरे …

Read More »

A Parents Heart: Inspirational Parents Day Poem

Inspirational Parents Day English Poem: A Parent's Heart

Parents play a very important role in every child’s life. We seldom get opportunities to thank our parents in public. But there may be events and occasions or any kind of celebration when you really want to show your gratitude towards your parents. If you ever wondered how to thank parents through speech; these thank you speeches for parents would …

Read More »