इतनी शक्ति हमें देना दाता – अभिलाष

Nana Patekar

इतनी शक्ति हमें देना दाता
मन् का वीश्वास कमजोर हो ना
हम चलें नेक रस्ते पे हमसे
भूलकर भी कोई भूल हो ना…

हर तरफ ज़ुल्म है बेबसी है
सहमा सहमा सा हर आदमी है
पाप का बोझ बढ़ता ही जाये
जाने कैसे ये धरती थमी है
बोझ ममता का तू ये उठा ले
तेरी रचना का ये अंत हो ना…
हम चले…

दूर अग्यान के हो अँधेरे
तू हमें ग्यान की रौशनी दे
हर बुराई से बचके रहे हम
जितनी भी दे, भली ज़िन्दगी दे
बैर हो ना किसीका किसीसे
भावना मन् में बदले की हो ना…
हम चले…

हम ना सोचें हमें क्या मिला है
हम ये सोचें किया क्या है अर्पण
फूल खुशियों के बाटें सभी को
सबका जीवन ही बन जाये मधुबन
अपनी करुना को जब तू बहा दे
करदे पावन हर इक मन का कोना…
हम चले…

हम अँधेरे में हैं रौशनी दे,
खो ना दे खुद को ही दुश्मनी से,
हम सज़ा पाए अपने किये की,
मौत भी हो तो सह ले खुशी से,
कल जो गुजारा है फिरसे ना गुजारे,
आनेवाला वो कल ऐसा हो ना…
हम चले नेक रास्ते पे हमसे,
भूलकर भी कोई भूल हो ना…

इतनी शक्ति हमें दे ना दाता,
मन् का वीश्वास कमजोर हो ना…

∼ अभिलाष

चित्रपट : अंकुश (१९८६)
गीतकार : अभिलाष
संगीतकार : कुलदीप सिंह
गायक : पुष्पा पगधारे, सुषमा श्रेष्ट
सितारे : नाना पाटेकर, निशा

About Abhilash Kumar

Abhilash, who wrote the popular bhajan 'Itni Shakti Hame Dena Data', has been writing in the film industry for 40 years. Now a days - write songs for television serials.

Check Also

A Father And A Patriot: Ramendra Kumar

A Father And A Patriot: Ramendra Kumar

A Father And A Patriot: “Abba, how come Nanaji does Puja while Ammi and you …