Home » Poems For Kids » Haryanavi Folksong in Hindi ऊंची एडी बूंट बिलाती
Haryanavi Folksong in Hindi ऊंची एडी बूंट बिलाती

Haryanavi Folksong in Hindi ऊंची एडी बूंट बिलाती

ऊंची एडी बूंट बिलाती पहरन खात्तर ल्यादे,
जै तेरे बसकी बात नहीं तो म्हारे घरां खंदा दे।

बाग बेच दे बिरसा बेच दे मन्नै रमझोल घड़ा दे,
जै तेरे बसकी बात नहीं तो म्हारे घरां खंदा दे।

बैल बेच दे भैंस बेच दे साड़ी जम्फर ल्यादे,
जै तेरे बसकी बात नहीं तो म्हारे घरां खंदा दे।

नौहरा बेच दे महल बेच दे मोटरकार मंगा दे,
जै तेरे बसकी बात नहीं तो म्हारे घरां खंदा दे।

आपको यह हरियाणवी लोकगीतऊंची एडी बूंट बिलाती”  कैसा लगा – आप से अनुरोध है की अपने विचार comments के जरिये प्रस्तुत करें। अगर आप को यह कविता अच्छी लगी है तो Share या Like अवश्य करें।

यदि आपके पास Hindi / English में कोई poem, article, story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Id है: submission@4to40.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ publish करेंगे। धन्यवाद!

Check Also

Baisakhi Facebook Covers

Baisakhi Facebook Covers

Baisakhi Facebook Covers: Baisakhi also known as Vaisakhi, Vaishakhi, or Vasakhi refers to the harvest festival …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *