Tag Archives: Environment Inspirational Sayings

पानी बचाओ व जल संरक्षण पर अनमोल विचार व नारे

पानी बचाओ व जल संरक्षण पर अनमोल विचार व नारे

पानी बचाओ पर अनमोल विचार: पानी जीवन की basic necessity है। किसी और ग्रह पर भी जीवन खोजना होता है तो पहले वैज्ञानिक यही पता लगाते हैं कि वहां पानी है कि नहीं… और यहाँ पृथ्वी पर हम इस अमूल्य संसाधन का दुरूपयोग करते नहीं थकते… कहीं टंकियों से भर कर पीने का साफ पानी नालियों में गिराया जाता है …

Read More »

पृथ्वी के बारे में अनमोल विचार बच्चों के लिए

पृथ्वी के बारे में कुछ अनमोल विचार

पृथ्वी के बारे में अनमोल विचार बच्चों के लिए: पृथ्वी दिवस पूरे विश्व में 22 अप्रैल को मनाया जाता है। पृथ्वी दिवस को पहली बार सन् 1970 में मनाया गया था। इसका उद्देश्य लोगों को पर्यावरण के प्रति संवेदनशील बनाना था। पृथ्वी पर अक्सर उत्तरी ध्रुव की ठोस बर्फ़ का कई किलोमीटर तक पिघलना, सूर्य की पराबैंगनी किरणों को पृथ्वी तक …

Read More »

Earth Day Quotes And Messages For Students

Earth Day Quotes in English

Earth Day Quotes And Messages For Students: Earth Day is an annual event celebrated on April 22. Worldwide, various events are held to demonstrate support for environmental protection. First celebrated in 1970, Earth Day events in more than 193 countries are now coordinated globally by the Earth Day Network. Here we have listed some very popular ‘Earth Day‘ related quotations in …

Read More »

नव वर्ष उद्धरण विद्यार्थियों और बच्चों के लिए

नव वर्ष उद्धरण - New Year Quotes

नव वर्ष उद्धरण विद्यार्थियों और बच्चों के लिए: नया साल आने की ख़ुशी सभी को होती है – बड़े हो या बच्चे। बच्चे plan करते है की नया साल कैसे मनाया जाए – और बड़े – बूढ़े Resolution बनाने में लग जाते हैं। आइये पढ़े की विद्वानों ने नए साल के बारे में क्या कहा। नव वर्ष उद्धरण नव वर्ष …

Read More »

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के अनमोल विचार

Sarvepalli Radhakrishnan

Name: Dr. Sarvepalli Radhakrishnan / डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन Born: 5 सितम्बर 1888 तिरुट्टनी, तमिल नाडु, भारत Died: 17 अप्रैल 1975 (आयु: ८८ वर्ष) चेन्नई, तमिल नाडु, भारत Political Party: स्वतन्त्र Profession: राजनीतिज्ञ, दार्शनिक, शिक्षाविद, विचारक Achievement: भारत के दूसरे राष्ट्रपति, 1954 में भारत रत्न से सम्मानित, Nobel Prize for Literature के लिए लगातार पांच सालों (1933–1937) तक नॉमिनेट हुए, हालांकि …

Read More »