दुख और कष्टों से छुटकारा पाने के लिए करें इन मंत्रों का जाप

दुख और कष्टों से छुटकारा पाने के लिए करें इन मंत्रों का जाप

सोमवार को भगवान शिव जी की पूजन-अर्चना का विशेष महत्व है। भगवान शिव जिनके नाम का अर्थ ही है कल्याणस्वरूप और कल्याणप्रदाता। इस कल्याण रूप की आराधना से सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं। भगवान शंकर अत्यन्त शांत समाधिस्थ देवता हैं। इस सौम्य भाव को देखकर ही भक्तों ने इन्हें सोमवार का देवता माना हैं। शास्त्रों में भी यह बात उल्लेखनीय है कि जो भी भगवान शिव की आराधना पूरे मन और श्रद्धा से करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है और भगवान शिव की पूजा करने से कठिन कार्य भी आसानी से बन जाते है। जिन्हें कालसर्प दोष हो या मृत्युतुल्य कष्ट हो उनके लिए निम्न मंत्रों का जाप करना चाहिए और श्रद्धा भक्ति के साथ किया गया निम्न मंत्रों का जाप अवश्य सफल होता है।

  • सर्वप्रथम भगवान शिव को स्नान करवाएं और निम्न मंत्र का जाप करें

ॐ वरुणस्योत्तम्भनमसि वरुणस्य सकम्भ सर्ज्जनीस्थो | वरुणस्य ऋतसदन्यसि वरुणस्य ऋतसदनमसि वरुणस्य ऋतसदनमासीद् ||

  • भगवान शिव की पूजा अर्चना करते समय इस मंत्र का जाप करें

ॐ ब्रह्म ज्ज्ञानप्रथमं पुरस्ताद्विसीमतः सुरुचो वेन आवः| स बुध्न्या उपमा अस्य विष्ठाः सतश्च योनिमसतश्च विवः||

  • भगवान शिव को गंध समर्पण करते समय इस मंत्र का जाप करें

ॐ नमः श्वभ्यः श्वपतिभ्यश्च वो नमो नमो भवाय च रुद्राय च नमः| शर्वाय च पशुपतये च नमो नीलग्रीवाय च शितिकण्ठाय च||

  • भगवान शिव को पुष्प अर्पित करते समय इस मंत्र का जाप करें

ॐ नमः पार्याय चावार्याय च नमः प्रतरणाय चोत्तरणाय च| नमस्तीर्थ्याय च कूल्याय च नमः शष्प्याय च फेन्याय च||

  • भगवान शिव को धूप अर्पित करते समय इस मंत्र का जाप करें

ॐ नमः कपर्दिने च व्युप्त केशाय च नमः सहस्त्राक्षाय च शतधन्वने च| नमो गिरिशयाय च शिपिविष्टाय च नमो मेढुष्टमाय चेषुमते च||

Check Also

15 August Greetings

15 August Greetings For Students And Children

15 August Greetings For Students And Children: Independence Day, celebrate annually on 15 August, is …