Spirituality in India

Spirituality and mystical charm have always drawn people from all over the world to India. As the world becomes increasingly capitalistic and materialist, the quest and urgency for spirituality grows more and more

अपनाएं भगवान बुद्ध की शिक्षाएं

अपनाएं भगवान बुद्ध की शिक्षाएं: बुद्ध की ज्ञान प्राप्ति के 49 दिनों के बाद उनसे पढ़ाने के लिए अनुरोध किया गया था। इस अनुरोध के परिणामस्वरूप, योग से उठने के बाद बुद्ध ने धर्म के पहले चक्र को पढ़ाया था। इन शिक्षणों में चार आर्य सत्य और अन्य प्रवचन सूत्र शामिल थे जो हीनयान और महायान के प्रमुख श्रोत थे। …

Read More »

बुद्धा: बौद्ध धर्म के प्रचारक Buddhist Preacher

बुद्धा - बौद्ध धर्म के प्रचारक

बुद्ध अर्थात परमेश्वर ने मानव रूप धारण कर पृथ्वी पर जन्म लिया। अपने जीवन में अथक प्रयास से जो प्राप्त किया, वह बौद्ध धर्म था। बुद्ध और बौद्ध धर्म के बारे में विचारकों के अलग-अलग मत रहे हैं, लेकिन सभी ने बुद्ध को महान पथ प्रदर्शक माना है। वह मानव कल्याण की भावनाओं को अभिव्यक्त करते रहे। उन्होंने अंतिम कथन …

Read More »

गौतम बुद्धा: दान की महिमा

गौतम बुद्धा - दान की महिमा

भगवान बुद्ध का जब पाटलिपुत्र में शुभागमन हुआ, तो हर व्यक्ति अपनी-अपनी सांपत्तिक स्थिति के अनुसार उन्हें उपहार देने की योजना बनाने लगा। राजा बिंबिसार ने भी कीमती हीरे, मोती और रत्न उन्हें पेश किए। बुद्धदेव ने सबको एक हाथ से सहर्ष स्वीकार किया। इसके बाद मंत्रियों, सेठों, साहूकारों ने अपने-अपने उपहार उन्हें अर्पित किए और बुद्धदेव ने उन सबको …

Read More »

सिख गुरु अमर दास: वैष्णव संत

सिख गुरु अमर दास: वैष्णव संत

25 साल छोटे गुरु के शिष्य, जिनके सामने झुका अकबर भी… 20 बार हरिद्वार जाने वाले वैष्णव संत कैसे बने सिखों के तीसरे गुरु वैष्णव मत में विश्वास रखने वाले अमर दास को हरिद्वार की यात्रा खासी पसंद थी और वो वहाँ अक्सर तीर्थाटन के लिए जाया करते थे। कम से कम उन्होंने 20 बार हरिद्वार की यात्रा की। इन्हीं …

Read More »

औरतों को हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए या नहीं

औरतों को हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए या नहीं

श्रीराम भक्त हनुमान का पूजन करने से लगभग समस्त देवी देवताओं का पूजन हो जाता है। कलयुग में हनुमान जी की पूजा अपने मनोरथों को पूर्ण करने का सबसे प्रभावकारी और सरलतम माध्यम है। हनुमान जी अखण्ड ब्रह्मचारी व महायोगी भी हैं इसलिए सबसे जरूरी है कि उनकी किसी भी तरह की उपासना में वस्त्र से लेकर विचारों तक पावनता, …

Read More »

क्या है हनुमान जी का असली नाम?

क्या है हनुमान जी का असली नाम?

शास्त्रानुसार हनुमान जी अप्सरा पुंजिकस्थली (अंजनी) व केसरी नामक वानर के पुत्र हैं। विवाह उपरांत कई वर्षों तक देवी अन्जना संतान सुख से वंचित थी। कई यतन करने के बाद भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी। इस दुःख से पीड़ित देवी अंजना ने भारत के दक्षिण में स्थित ऋषि मतंग के आश्रम में जाकर उनसे शरण मांगी। मंतग ऋषि ने …

Read More »

हनुमान मंत्र: समस्त संकटों का हरता

Hanuman Mantra

परम पूज्य हनुमान जिन्हें इस दौर के महान देवता माना जाता है। इन्हें भगवान शिव का अवतारी स्वरूप माना जाता है जिस कारण यह मनुष्य के समस्त संकटों को हर लेते हैं और मनुष्य की बुरे वक्त में रक्षा कर सुख स्मृद्धि प्रदान करते हैं। हनुमान मंत्र: समस्त संकटों का हरता मनुष्य को अपने जीवन में कई समस्याओं का सामना …

Read More »

हनुमान मंत्र जो बनाये आप का जीवन राजा जैसा

हनुमान मंत्र जो बनाये आप का जीवन राजा जैसा

भक्तों के भक्त हैं हनुमान, छोटी-छोटी सी चीजों से पल भर में हो जाते हैं प्रसन्न। हनुमान जी के मंदिर में चमत्कारिक शक्तियों का वास होता है और यही शक्तियां भक्तों को मंगलवार और शनिवार को उनके मंदिर की ओर खींच लाती हैं। हनुमान मंदिर में आने वाले भक्त कभी खाली हाथ नहीं जाते, बस दिल में भक्ति और पूजा …

Read More »

हनुमान के बल और बुद्धि की परीक्षा

हनुमान के बल और बुद्धि की परीक्षा

हनुमान के बल और बुद्धि की परीक्षा: हनुमान जी को आकाश में बिना विश्राम लिए लगातार उड़ते देख कर समुद्र ने सोचा कि ये प्रभु श्रीराम चंद्र जी का कार्य पूरा करने के लिए जा रहे हैं। किसी प्रकार थोड़ी देर के लिए विश्राम दिलाकर इनकी थकान दूर करनी चाहिए। यह सोच कर उसने अपने जल के भीतर रहने वाले …

Read More »

लंका में हनुमान का प्रवेश

लंका में हनुमान का प्रवेश

सौ योजन चौड़े विशाल समुद्र को पार कर महावीर हनुमान जी आकाश में उड़ते हुए शीघ्र ही लंका नगरी के पास जा पहुंचे। वहां का दृश्य बड़ा ही सुहावना था। चारों ओर तरह-तरह के सुंदर वृक्ष लगे हुए थे। सुंदर-सुंदर फूल खिले हुए थे। भांति-भांति के पक्षी आनंद में चहक रहे थे। शीतल, मंद, सुंगधित बयार बह रही थी। बड़ा …

Read More »