History For Kids

पृथ्वीराज चौहान और अजमेर के ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती

पृथ्वीराज चौहान और अजमेर के ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती

‘हमने पिथौरा को जिंदा दबोच इस्लामी फौज को सौंप दिया’: ‘गरीब नवाज’ ने क्यों लिया था पृथ्वीराज चौहान की हार का श्रेय? MA अकबर की पुस्तक के अनुसार, मोईनुद्दीन चिश्ती को निजामुद्दीन औलिया के बाद दूसरा सबसे बड़ा सूफी संत माना गया लेकिन उसने अजमेर के आनासागर झील को अपवित्र कर दिया था। उसने अल्लाह और पैगम्बर की मदद से …

Read More »

लाइफ ऑफ़ बैरिस्टर वीर विनायक दामोदर सावरकर

लाइफ ऑफ़ बैरिस्टर वीर विनायक दामोदर सावरकर

लाइफ ऑफ़ बैरिस्टर सावरकर: भारत माता के सर्वोत्तम पुत्रो में से एक वीर विनायक दामोदर सावरकर जी का जन्म दिवस (28 May, 1883 – 26 February, 1966) था, जिनको आज लोग, ‘वीर सावरकर’ के नाम से उद्बोधित करते है। सावरकर जी उन स्वतंत्रता सेनानियों और क्रांतिकारियों में से है, जिनके योगदान को, कांग्रेस की सरकारों और वामपंथी इतिहासकारो द्वारा स्वतंत्रता …

Read More »

येरुशलम विवाद: इजराइल-फिलिस्तीन के बीच संघर्ष

येरुशलम विवाद: इजराइल-फिलिस्तीन के बीच संघर्ष

जहाँ अभी अल-अक्शा मस्जिद, वहाँ पहले था यहूदियों का मंदिर: जानिए कहाँ से शुरू हुआ येरुशलम विवाद टेंपल माउंट में यहूदियों के प्रवेश पर प्रतिबंध के कारण पश्चिमी दीवार यहूदियों का सबसे पवित्र स्थल है। यहाँ पर ये लोग पूजा कर सकते हैं। दूसरे यहूदी मंदिर के विस्तार का सबूत राजा हेरोड द्वारा बनाई दीवार के अवशेष हैं। इसके अलावा …

Read More »

भारत में यहूदियों का इतिहास: 3000 वर्ष पुराना

3000 वर्ष पुराना है भारत में यहूदियों का इतिहास

हिन्दू राजाओं ने बसाया, इस्लामी व पुर्तगाली ताकतों ने किया अत्याचार: 3000 वर्ष पुराना है भारत में यहूदियों का इतिहास माना जाता है कि राजा सोलोमन (970-931 BC राज्यकाल) के समय व्यापारी के रूप में ये यहूदी केरल आए थे। इससे इजरायल और दक्षिण भारत के बीच होने वाले प्राचीन व्यापार के बारे में भी पता चलता है। भारत में …

Read More »

Bose Not Gandhi Ended British Rule: Ambedkar

Bose, Not Gandhi, Ended British Rule In India: Ambedkar

In an interview to BBC in February 1955, Babasaheb elucidated the reason why the British left India in 1947. Subsequently, Attlee agreed Netaji was the toughest challenge the Empire faced. Several defence and intelligence experts agreed, too. Bose Not Gandhi Ended British Rule – Why even after 70 years of his disappearance the people of India are so keen on …

Read More »

How General Dyer was honoured by some Indians

How General Dyer was honoured by some Indians

General Reginald Dyer defending his actions on April 13, 1919, in Jallianwala Bagh How Reginald Dyer, the General who ordered Jallianwala Bagh massacre, was honoured by some Indians Jallianwala Bagh massacre by the British was one of the worst events in the history of India. As per British official records, 379 unarmed Indians were killed and 1100 were injured because …

Read More »

जब शिवाजी के 300 मराठों ने 1 लाख की फ़ौज को हराया

जब शिवाजी के 300 मराठों ने 1 लाख की फ़ौज को हराया

वो शिवा जिसने शिवाजी की जान बचाने के लिए ख़ुद का बलिदान दिया जैसा कि योजना बनाई गई थी, शिवा काशिद पकड़े गए और उन्हें बीजापुरी कैंप में ले जाया गया। वे चाहते ही थे कि शिवाजी की जान बचाने के लिए उन्हें पकड़ लिया जाए। इस बलिदान ने पीछे हटते मराठा बल को कुछ साँस लेने का मौका दिया। …

Read More »

शिवाजी की तलवार का इंग्लैंड कनेक्शन

शिवाजी की तलवार का इंग्लैंड कनेक्शन

सिर्फ 2000 सैनिकों से साम्राज्य खड़ा करने की कहानी जब शिवाजी महाराज ने बतौर शासक अपना जीवन शुरू किया, तब उनके पिता ने उनके लिए सिर्फ़ 2000 सैनिक छोड़े थे। उन्होंने इस संख्या को बढ़ाकर 10,000 कर डाला। वे कभी अपने सैनिकों को शहीद होने के लिए नहीं उकसाते थे। बल्कि… शिवाजी की तलवार का इंग्लैंड कनेक्शन निडर, पराक्रमी, कुशल, …

Read More »

छत्रपति शिवाजी के प्रमुख युद्ध

छत्रपति शिवाजी के प्रमुख युद्ध

अफजल को मारा, शाहिस्ता को हराया और औरंगज़ेब को नाकों चने चबवाया अफजल खान और प्रतापगढ़ में बीजापुरी सेना की पराजय के बाद, शिवाजी ने बीजापुरी क्षेत्र में गहरी पकड़ जारी रखी। कुछ दिनों के भीतर, मराठों ने पन्हाला किले (कोल्हापुर शहर के पास) पर कब्जा कर लिया। इस बीच, नेताजी पालकर के नेतृत्व में एक और मराठा बल, बीजापुर …

Read More »