Home » Quotations » Famous Hindi Quotes » Napoleon Hill Quotes in Hindi नेपोलियन हिल के अनमोल विचार
Napoleon Hill Quotes in Hindi नेपोलियन हिल के अनमोल विचार

Napoleon Hill Quotes in Hindi नेपोलियन हिल के अनमोल विचार

Napoleon Hill (October 26, 1883 – November 8, 1970) was an American author and impresario from the new thought tradition of the previous century to become an early producer of personal-success literature. At the time of Hill’s death in 1970, his best-known work, Think and Grow Rich (1937) had sold 20 million copies. Hill’s works insisted that fervid expectations are essential to increasing one’s income. Most of his books were promoted as expositing principles to achieve “success”. Hill was an advisor to two presidents of the United States of America, Woodrow Wilson and Franklin Delano Roosevelt.

दुनिया के सफलतम ऑथर्स में से एक जिनकी किताब “थिंक एंड ग्रो रिच” ने लाखों लोगों की ज़िन्दगी बदल दी. आइये आज हम उनके अनमोल प्रेरादायक कथन जानते हैं.

  • एक लक्ष्य एक समय सीमा के साथ देखा गया स्वप्न है।
  • कार्यवाही बुद्धिमत्ता का असल मापदंड है।
  • हर एक कामयाबी और दौलत की शुरआत एक विचार से होती है।
  • जीवन में आपको जो भी अवसर चाहिए वो आपकी कल्पना में प्रतीक्षा करते हैं, कल्पना आपके मस्तिष्क की कार्यशाला है, जो आपके मन की उर्जा को सिद्धि और धन में बदल देती है।
  • कोई भी सुझाव, योजना या उद्देश्य मन में विचार को बार-बार दोहरा कर बैठाया जा सकता है।
  • बड़ा वेतन और छोटी जिम्मेदारी शायद ही कभी एक साथ पाए जाते हैं।
  • अपने विज़न और सपनो को इस तरह संजोयें जैसे कि वो आपकी आत्मा के बच्चे हों, आपकी उपलब्धियों की मूल योजना।
  • अपनी इच्छाओं को पूर्ण करने के लिए एक निश्चित योजना बनाएं और तुरंत इसे क्रियान्वित करने की शुरुआत कर दें, चाहे आप तैयार हों या नहीं।
  • इच्छा ही सभी उपलब्धियों का प्रारंभिक बिंदु है।
  • इंतज़ार मत करिए। सही समय कभी नहीं आता।
  • एडिसन इलेक्ट्रिक बल्ब बनाने में १०,००० बार विफल हुए। यदि आपI
  • कुछ बार विफल हो जाते हैं तो हिम्मत मत हारिये।
  • शिक्षा भीतर से आती है, आप इसे संघर्ष, प्रयास और विचारों से पाते हैं।
  • हर कोई उस तरह का काम करने में आनंद उठता है जिसे करने के लिए वो उपयुक्त है।
  • डर, मन की एक स्थिति के आलावा और कुछ भी नहीं है।
  • आमतौर पर महान उपलब्धियां महान बलिदानों का फल होती हैं और कभी भी स्वार्थ का परिणाम नहीं होतीं।

Check Also

Rajiv Gandhi - Biography

Rajiv Gandhi Biography For Students And Children

Born: Rajiv Ratna Gandhi – 20 August 1944 – Bombay, Bombay Presidency, British India Martyrdom: …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *