सद्गुरु जग्गी वासुदेव के अनमोल विचार

सद्गुरु जग्गी वासुदेव के अनमोल विचार Sadhguru Jaggi Vasudev Quotes

सद्गुरु जग्गी वासुदेव के अनमोल विचार Sadhguru Jaggi Vasudev Quotes

  • मुझे समझ नहीं आता कि लोग अपने दिमाग को नियंत्रित क्यों करना चाहते हैं। मैं चाहता हूँ कि वे अपने दिमाग को आज़ाद कर दें।
  • बहुत अधिक प्राप्त कर लेने जैसी कोई चीज नहीं है। जीवन कभी न ख़त्म होने वाली सम्भावना है।
  • अगर आप अपनी लाइफ उन चीजों में नहीं लगाते जिनकी आप सचमुच फ़िक्र करते हैं तो आपकी लाइफ बर्वाद हो जायेगी। आप उड़ेंगे नहीं – आप लाइफ में बस खुद को घसीटेंगे।
  • जीवन आपके बाहर नहीं है। आप जीवन हैं।
  • योग का मतलब है सीमित को असीमित से जोड़ना।
  • एक सांप और जीवों से अधिक जानता है कि उसके आस-पास क्या हो रहा है, क्योंकि गप सुनने के लिए उसके पास कान नहीं होते – केवल प्रत्यक्ष अनुभूति।
  • जीवन में जो भी आपका लक्ष्य हो, जब तक आप उसे पाने की जल्दी नहीं दिखाते, जो करीब हो सकता था वो दूर हो जाएगा।
  • हर सांस जो आप लेते हैं, आपको मौत के करीब ले जाती है। लेकिन हर सांस जो आप लेते हैं, आप अपनी मुक्ति के करीब भी जा सकते हैं।
  • जो भी होता है – अंत में, जीवन खुद को सही कर लेता है।
  • अध्यात्म कोई विकलांगता नहीं है – यह जीवन का एक अभूतपूर्व सशक्तिकरण है।
  • इस ग्रह पर हर दुसरा प्राणी अपना सर्वश्रेष्ठ कर रहा है। केवल मनुष्य ऐसा करने में संकोच करते हैं।
  • डेथ कोई डिजास्टर नहीं है। बहुत सारी बर्थ्स – असली डिजास्टर है।
  • अगर कोई आपके अहंकार पर कदम रखता है, वो आपका दुश्मन बन जाता है। लेकिन एक गुरु एक दोस्त होता है जो लगातार आपके अहम को कुचलता रहता है।
  • चाहे आप कोई बिजनेस, इंडस्ट्री या देश चला रहे हों – जो चीज चाहिए वो हैं अंतर्दृष्टि, ईमानदारी, और प्रेरणा।
  • गलत खेती के तरीकों से, हम उपजाऊ जमीन को रेगिस्तान में बदल रहे हैं। जब तक हम वापस जैविक खेती की ओर नहीं लौटते और मिटटी को नही बचाते, तब तक कोई भविष्य नहीं है।
  • एक इंसान एक बीज की तरह है। या तो आप इसे वैसे रख सकते हैं जैसा वो है, या आप इसे फूलों और फलों से लदे एक अद्भुत पेड़ के रूप में विकसित कर सकते हैं।
  • अध्यात्म परम लालच है। आप न सिर्फ सृजन का एक टुकड़ा चाहते हैं – आप सृष्टि का स्रोत चाहते हैं।
  • भक्ति तब होती है जब जीवन के साथ आपकी भागीदारी इतनी पूर्ण होती है कि आप खुद कोई मायने नहीं रखते।
  • जब तक आप अपने कष्टों से बेखबर नहीं होते, आपको कोई अधिकार नहीं कि आप दूसरों के कष्टों से बेखबर हों।
  • “मैं तुम्हे बदलना चाहता हूँ” – ये क्रांति नहीं है। “मैं बदलना चाहता हूँ” – अब ये एक क्रांति है।
  • एक ज़रूरी चीज जो आप अपने बच्चों के लिए कर सकते हैं वो है उन्हें बाहर प्रकृति में ले जाने के लिए कुछ समय देना।
  • अधिकतर लोग ईगो-सेंसिटिव होते हैं, लाइफ-सेंसिटिव नहीं।
  • जिस क्षण आप इस दुनिया में अपने आस-पास के जीवन की परवाह किये बिना कार्य करते हैं, आप अपराधी हैं।
  • कितना अच्छा होता अगर ये दुनिया छोटे बच्चों द्वारा चलायी जाती, क्योंकि वे किसी और की तुलना में जीवन के ज्यादा करीब होते हैं।
  • अगर आप सफल होना चाहते हैं, सफलता को मत खोजिये – क्षमता, सशक्तिकरण को खोजिये; अपने सर्वश्रेष्ठ से कम कुछ भी मत करिए।
  • जीवन का अर्थ क्या है? यह इतनी महान घटना है कि इसे किसी अर्थ में नहीं बाँधा जा सकता।
  • जो कुछ भी निर्मित किया जा सकता है वो पहले से ही सृष्टि में किया जा चुका है। बतौर मनुष्य, हम बस उसकी नक़ल कर सकते हैं, बना नहीं सकते।
  • हर चीज को फ़ोन के माध्यम से देखना बस आपकी अनुभूति को सुन्न कर रहा है – ये वास्तव में किसी भी तरह आपके जीवन के अनुभव को बढ़ा नहीं रहा।
  • जिस तरह की क्षमता एक मनुष्य में होती है, ये जीवन बहुत छोटा है।
  • ख़ुशी बस आनंद की छाया है। जब आपके अन्दर कोई आनंद नही होता, तो आप ख़ुशी खोजने लगते हैं।
  • भौतिक अस्तित्व का बस एक छोटा सा पहलू है। इस ब्रह्मांड में १% भी भौतिक नहीं है – बाकी गैर-भौतिक है।
  • ये आपकी क्वालिफिकेशंस नहीं बल्कि लाइफ में मिलने वाला एक्सपोज़र है जो आपको वो बनाता है जो आप हैं।
  • हर बुनियादी काम जैसे खाना या सेक्स करना जादुई बन जाता है जब आप इसे कोंसियसली करते हैं।
  • एक गुरु कोई ऐसा नही होता जो आपके लिए मशाल पकड़ता है। वो खुद मशाल होता है।
  • शिक्षा का फोकस दमनकारी सूचना पर नहीं होना चाहिए बल्कि ज्ञान की प्यास प्रज्वालित करना होना चाहिए।
  • हमें और हिन्दू और क्रिश्चन या और मुसलमान नहीं चाहिएं – हमें और बुद्ध और जीसस और कृष्ण चाहिएं – तब असल बदलाव आएगा। हर मनुष्य में वो आंतरिक क्षमता है।
  • पेड़ आपकी साँसों के स्रोत हैं – उन्हें काटिए और आप जीवन को ही काट देंगे।
  • जब कोई ज़रूरत से ज्यादा खाए और कोई भूखा रहे तो मैं उसे अनर्थ कहता हूँ।
  • अस्तित्व में सबसे बड़ी शक्ति चेतना है, और आप वो हैं।
  • लोग किताबों को पवित्र कहते हैं, लेकिन उन्हें अभी भी ये समझना है कि जीवन पवित्र है।
  • ब्रह्मांड के विस्तार में, सब कुछ सही चल रहा है, लेकिन आपके मन में आया एक जरा सा बुरा विचार पूरा दिन खराब कर देता है। यह परिप्रेक्ष्य का अभाव है।
  • संपत्ति को अपनी भलाई में बदलने के लिए, आपको आध्यात्मिक तत्व की आवश्यकता होगी। उसके बिना, आपकी सफलता आपके खिलाफ काम करेगी।

Check Also

Janmashtami Coloring Pages

Janmashtami Coloring Pages For Kids

Janmashtami Coloring Pages For Kids: Krishna Janmashtami, also known as Krishnashtami, Saatam Aatham, Gokulashtami, Ashtami …