• सर विंस्टन चर्चिल

    सर विंस्टन चर्चिल: लेखक कलाकार, राजनीतिज्ञ और इंग्लैंड के प्रधानमंत्री विस्टन चर्चिल रायल मिलिट्री कालेज की प्रवेश परीक्षा में न सिर्फ एक बार बल्कि दो बार असफल हुए थे।

  • एडवर्ड एम कैनेडी

    एडवर्ड एम कैनेडी: मंत्री (सीनेटर) और किसी समय राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार एडवर्ड एम. कैनेड को हारवर्ड यूनिवर्सिटी से इसलिए निकाल दिया गया था क्योकि उनकी जगह उनके किसी दोस्त ने परीक्षा दी थी।

  • अलबर्ट आइस्टीन

    अलबर्ट आइस्टीन: बचपन में आइस्टीनपढ़ने में कमजोर थे और स्कूली शिक्षा प्राप्त करने में उनकी रूचि कम ही थी। जब वह केवल 15 साल के थे तब उन्होंने बिना कोई डिप्लोमा किए स्कूल छोड़ दिया। इतिहास भूगोल और अंग्रेजी में उनके नंबर बहुत कम थे। 16 साल की उम्र में उन्होंने स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख के पॉलिटैक्निक इंस्टीच्यूट में पहली बार एप्लाई किया और वे प्रवेश परीक्षा भी पास नही कर पाये थे। आइस्टीन बड़े होकर महान भौतिक वैज्ञानिक बने और उन्हें दुनिया का महानतम बुद्धिजीवी माना जाता है।

  • थामस एडीसन

    थामस एडीसन: सबसे ज्यादा मशहूर आविष्कारकों में एक है थामस एडीसन। एडीसन केवल 3 महीने ही स्कूल गए थे। जब वह 8 साल के थे तब उनके टीचर ने उनसे कहा की वह चीजे बहुत धीरे समझते है। इसके बाद उनकी मां ने उन्हें स्कूल से हटा लिया और घर पर पढ़ाना शुरू किया। मां की कड़ी मेहनत के कारण उन्होंने 9 साल की उम्र में तरह-तरह के प्रयोग (एक्सपैरीमैन्ट्स) करने शुरू कर दिए थे। उनके एक हजार से ज्यादा आविष्कारो में बल्ब और फोटोग्राफ बहुत ज्यादा मशहूर है। इसके साथ उन्होंने मोशन पिकर्स (चलचित्र) टैलीफोन और इलैक्ट्रिक जैनरेटर के अविष्कार में भी मदद की।

  • चार्ल्स डारविन

    चार्ल्स डारविन: चार्ल्स डारविन पढ़ाई में इतने कमजोर थे की उनके पिता को उन्हें स्कूल से हटाना पड़ा। उनके पिता ने उन्हें डांटते हुए कहा, तुम किसी चीज पर ध्यान नही देते हो। तुम अपने साथ-साथ परिवार को भी बदनाम करोगे। इसके बाद डारविन को मैडिसिन की पढ़ाई के लिए बाहर भेजा गया पर इसमें उनका मन नही लगा। फिर राजनीति की पढ़ाई के लिए उन्हें बाहर भेजा गया पर उन्होंने अपना सारा समय खिलाड़ियों के साथ बिता दिया हालांकि जीव विज्ञानं के क्षेत्र में क्रांति लाने का श्रेय उन्ही को जाता है।

  • बैंजामिन फ्रैंकलिन

    बैंजामिन फ्रैंकलिन: बैंजामिन फ्रैंकलिन अंकगणित में फेल हो गए थे, तो उनके पिता ने उन्हें स्कूल से निकलवा लिया। इस समय वह केवल 10 साल के थे। उनके पिता ने उन्हें अपनी कैंडल और साबुन की दुकान में मोमबत्तियों को काट कर उनमे बत्ती लगाने और मोम पिघालने का काम दिया। बड़े होकर फ्रैंकलिन ने राजनीतिज्ञ, विज्ञानिक और लोकनेता के रूप में देश की सेवा की।

  • आइजक न्यूटन

    आइजक न्यूटन: न्यूटन कमजोर विधार्थी थे और बिना किसी विशेष योग्यता के कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के ट्रिनिटी कालेज से उन्होंने ग्रैजुएशन (स्नातक) किया। आज न्यूटन को महान वैज्ञानिको में गिना जाता है। उनके अविष्कार से ही आधुनिक विज्ञानं और तकनीक की प्रकृति संभव हुई। न्यूटन ने 1666 में पेड़ से सेब गिरते हुए देख सबसे पहले गुरुत्वाकर्षण बल का पता लगाया था।

परीक्षा में असफल पर जिंदगी में सफल

कोई ऐसे महान व्यक्ति है जो परीक्षा में तो असफल रहे पर उन्होंने जीवन में सफलता के झंडे गाड़े।

Check Also

Chandra Shekhar Azad - Biography

Chandra Shekhar Azad Biography For Students

Name: Chandra Shekhar Azad – Chandrashekhar Tiwari Born: 23 July, 1906 Bhabhra (present-day Alirajpur district …