जैक मा के अनमोल विचार

जैक मा के अनमोल विचार

  • हम बीते हुए कल की सराहना करते हैं, लेकिन हम एक बेहतर आने वाले कल की ओर देखते हैं।
  • इंटरनेट के बिना, कोई जैक मा, और कोई अलीबाबा या टाओबाओ नहीं होता।
  • ज़िन्दगी इतनी छोटी है, इतनी ख़ूबसूरत। काम के प्रति इतने गंभीर ना रहें। जीवन का आनंद लें।
  • जहाँ शिकायतें हैं उन्ही जगहों पे मौके निहित हैं।
  • कभी हार मत मानो। आज कठिन है, कल और भी बदतर होगा, लेकिन परसों धूप खिलेगी।
  • युवा लोगों की मदद करो। छोटे लोगों की मदद करो। क्योंकि छोटे लोग बड़े होंगे। युवाओं के दिमाग में वो बीज होगा जो आप उनमे बोयेंगे, और जब वे बड़े होंगे, वे दुनिया बदल देंगे।
  • जब आपके पास एक मिलियन डॉलर है, तो आप एक भाग्यशाली व्यक्ति हैं। जब आपके पास 10 मिलियन डॉलर हैं, तो आप पर संकट है, बहुत बड़ा सर दर्द।
  • मेरे शहर की जो सबसे खराब यूनिवर्सिटी मानी जाती थी- हांग्जो शिक्षक विश्वविद्यालय, उसमे स्वीकार किये जाने से पहले मैं दो बार यूनिवर्सिटी के एग्जाम में फेल हो चुका था।
  • जब मैं जो हूँ वो रहता हूँ, मैं खुश रहता हूँ और अच्छे परिणाम मिलते हैं।
  • अलीबाबा के बुरे दिनों में मैंने सीखा कि आपको टीम में वैल्यू, इनोवेशन और विज़न डालना होता है। ये भी कि अगर आप हार नहीं मानते तो आपके पास एक और मौका होता है। और जब आप छोटे होते हैं, आपको बहुत अधिक फोकस्ड होना होता है और अपने दिमाग पर भरोसा करना होता है ना कि अपनी ताकत पर।
  • आपको अपने प्रतिद्वंदी से सीखना चाहिए, लेकिन कभी नक़ल न करें। नक़ल किया और आप मरे।
    बहुत ज़रूरी चीज जो आपमें होनी चाहिए वो है धैर्य।
  • मैं खुद को खुश रखने का प्रयास करता हूँ, नहीं, क्योंकि मैं जानता हूँ कि अगर मैं खुश नहीं हूँ, मेरे सहयोगी खुश नहीं हैं और मेरे शेयरधारक खुश नहीं हैं और मेरे ग्राहक खुश नहीं हैं।
  • मेरा काम पैसा बनाना है, और लोगों को पैसा बनाने में मदद करना है। मैं इस कोशिश में पैसे खर्च कर रहा हूँ कि और अधिक लोग अमीर बन सकें, क्योंकि आप खुद बहुत सारा पैसा नहीं खर्च कर सकते, नहीं ! इसलिए मेरा काम है औरों की मदद करने में पैसे खर्च करना। ये सिरदर्द है।
  • मैं पसंद नही किया जाना चाहता। मैं सम्मानित किया जाना चाहता हूँ।
  • यदि अलीबाबा माइक्रोसॉफ्ट या वाल-मार्ट नहीं बन पाता है तो मुझे बाकी की ज़िन्दगी इसका अफ़सोस रहेगा।
  • मेरा काम है अधिक से अधिक लोगों को काम मिलने में मदद करना।
  • चाइना से निकलने से पहले, मुझे बताया गया था कि चाइना दुनिया का सबसे समृद्ध और खुशहाल देश है। इसलिए जब मैं ऑस्ट्रेलिया पहुंचा, मैंने सोचा, “हे भगवान्, मुझे जो कुछ बताया गया था उससे सबकुछ अलग है।” तबसे, मैंने अलग ढंग से सोचना शुरू कर दिया।
  • मैं चाहता हूँ लोग जानें कि लोकतंत्र का मतलब क्या है।
  • अलीबाबा एक ऐसा इकोसिस्टम है जो छोटे व्यवसायों को फलने-फूलने में मदद करता है।
  • मेरा सपना अपनी खुद की ई-कॉमर्स कम्पनी खड़ा करना था। १९९९ में, मैंने अपने अपार्टमेंट में १८ लोगों को एकत्र किया और उनसे दो घंटे तक अपने विजन के बारे में बात की। हर किसी ने अपने पैसे टेबल पे रख दिए, और उससे अलीबाबा शुरू करने के लिए $६०,००० इकठ्ठा हो गए। मैंने एक ग्लोबल कम्पनी बनाना चाहता था, इसलिए मैंने एक ग्लोबल नाम चूज किया।
  • मैं नही चाहता कि चाइना में लोगों की जेबें गहरी हों लेकिन दिमाग ओछे।
  • मैं तकनीक के बारे में कुछ नहीं जानता।
  • कोई भी जैक मा पर यकीन नहीं करना चाहता था।
  • मैं ऑन-लाइन शौपिंग नहीं करता, लेकिन मेरी पत्नी हर एक चीज घर से खरीदती है। हम समुद्री केकड़े, ताजे केकड़े, हर तरह की चीज खरीदते हैं।
  • आपको आपके साथ सही लोग चाहिए होते हैं, सबसे अच्छे लोग नहीं।
  • इससे फर्क नहीं पड़ता कि पीछा कितना कठिन है, आपके पास हमेशा वो सपना होना चाहिए जो आपने पहले दिन देखा था। वो आपको प्रेरित रखेगा और (किसी कमजोर विचार से) आपको बचाएगा।
  • हमारे पास कभी भी पैसों की कमी नहीं होती। हमारे पास कमी होती है सपने देखने वाले लोगों की, जो अपने सपनो के लिए मर सकें।

Check Also

Dakshinayana Sankranti - Hindu Festival

Dakshinayana Sankranti Information, Fact, Ritual

Legends have it that Gods go to sleep during the Dakshinayana period. As the sun …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *