Home » News For Kids » भारत के 7 सबसे खूबसूरत रेलवे ट्रैक्स
भारत के 7 सबसे खूबसूरत रेलवे ट्रैक्स

भारत के 7 सबसे खूबसूरत रेलवे ट्रैक्स

भारतीय रेल दुनियाँ की सबसे विस्तृत रेल सेवाओं में से एक है। भारतीय रेल की पटरियों का जाल पूरे भारत में लगभग 71 हज़ार मील में फैला हुआ है। यह हर साल लगभग 9 अरब लोगों को उनकी मंज़िल तक पहुँचाती है। निःसंदेह छुक-छुक करती रेल में खिड़की पर बैठ कर खूबसूरत नज़रों को देखने से बेहतर कुछ भी नहीं है। भारतीय रेल कुछ ऐसी जगहों से होकर गुज़रती है जिन्हें आप दुनियाँ के सबसे खूबसूरत नज़ारों में जोड़ सकते है। आइये आपको दिखाते हैं भारतीय रेलवे के 7 ऐसे नज़ारे जिन्हें देख कर आप हैरान रह जाएंगे।

Next Prev
Darjeeling Himalayan Railwayदार्जलिंग-हिमालय से गुज़रती पटरियां

78 किलोमीटर का यह रेलवे ट्रैक दार्जलिंग में 1879 से 1881 के बीच बना था। यह रेलवे ट्रैक खूबसूरत जंगलों, वादियों और चाय के बागानों से होकर गुज़रता है। इस टॉय ट्रैन में बैठ कर आप कंचनजंघा की चोटी को निहार सकते हैं। इस जगह को यूनेस्को ने 1999 में वैश्विक संपदा घोषित कर दिया था। यहाँ से गुज़रता यह रेल ट्रैक अपने आप में गौरवान्वित करने वाला है।

Jammu Udhampur train journeyजम्मू-उधमपुर रेल ट्रैक

वातावरण की सबसे विषम परिस्थितियों से गुज़रने वाला यह रेलवे ट्रैक बर्फीले पहाड़ों से लेकर झुलसते रेगिस्तानों तक हर जगह से गुज़रता है। 53 किलोमीटर लम्बा यह रेल ट्रैक 20 सुरंगों और 158 पुलों से होकर गुज़रता है।

Kalka Shimla Toy Trainकालका-शिमला रेल मार्ग

96 किलोमीटर लम्बा कालका से शिमला तक का रेल ट्रैक यात्रियों के चहेते रेल मार्गों में से है। यह खूबसूरत रास्ता हिमालय की वादियों और खूबसूरत पहाड़ों से होकर जाता है। आप चाहेंगे कि यह सफर का कभी खत्म न हो। 102 सुरंगों और 864 पुलों वाले इस रेल मार्ग में 919 ज़बरदस्त मोड़ पड़ते हैं, जिनमें से कुछ तो 48 अंश तक के हैं। यह यात्रा अपने आप में किसी रोलरकोस्टर राइड से कम नहीं है।

Konkan Railway Routeकोंकण रेल मार्ग

कोंकण के इस रेल मार्ग पर यात्रा करना आपके लिए एक अद्भुद अनुभव हो जाएगा। कर्नाटक के ठोकुर से महाराष्ट्र के रोहा तक यह रास्ता बेहद खूबसूरत है। इस रास्ते में 91 सुरंगें और 2000 से भी ज्यादा पुल पड़ते हैं। कोंकण रेल मार्ग की यह यात्रा एक पल को भी आपकी पलकें नहीं झपकने देगी। नज़ारे इतने खूबसूरत हैं कि आप एक पल को भी खिड़की से नहीं हटना चाहेंगे।

Pamban Rameshwaram Railway Route | पंबन का रामेश्वरम सागर रेलवे पुल

रेलवे का रामेश्वरम सागर पुल शानदार है। 143 खम्बों पर खड़ा यह पुल रामेश्वरम से पंबन टापू तक आने जाने का इकलौता ज़रिया है। यह पुल हमेशा से बेहद विषम हालात में भी खड़ा रहा है। 2 किलोमीटर लम्बा यह पुल भारत का दूसरा सबसे लम्बा समंदर में खड़ा पुल है। यह इतना मज़बूत है कि 1965 में आई सुनामी भी इस पुल का कुछ नहीं बिगाड़ सकी थी।

Jaipur Jaisalmer Railway Routeजयपुर-जैसलमेर मार्ग

भारत की हरी-भरी वादियों के बजाए जयपुर का यह रेलवे ट्रैक आपको दूर-दूर तक पीली रेत के टीलों के दर्शन कराता है। लम्बे चौड़े रेत के मैदान और उन पर ऊंटों की लम्बी कतारें घर में लटकी किसी सीनरी को जैसे जीवंत कर देती है।

Hubli Madgaon Vasco da gama rail routeहुबली-मडगाँव का वास्को-डि-गामा रेल मार्ग

इसे भारत का सबसे खूबसूरत रेलवे ट्रैक माना जाता है। दुग्ध-सागर से होकर जब ट्रैन गुज़रती है तो आप पलकें झपकाना तक भूल जाते हैं। 310 मीटर की ऊंचाई से गिरता दूध सा सफेद पानी आकाश से होती दूध की बारिश जैसा लगता है।

Next Prev

Check Also

Sarva Pitru Amavasya / Mahalaya Amavasya - Hindu Festival

Sarva Pitru Amavasya / Mahalaya Amavasya

The Sarva Pitru Amavasya also known as the Mahalaya Amavasya (Maha means large and laya …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *