Home » Yoga » सिरदर्द या माइग्रेन से बचने के लिए योगासन
सिरदर्द, माइग्रेन से बचने के लिए योगासन

सिरदर्द या माइग्रेन से बचने के लिए योगासन

अगर आप भी सिरदर्द या माइग्रेन (Migraine) की तकलीफ से गुजर रहे हों तो रोजाना कुछ मिनटों के लिए योग का अभ्यास करें। यह आपके शरीर को आगामी माइग्रेन अटैक से लड़ने के लिए तैयार होने में मदद करेगा। योग, सिरदर्द या माइग्रेन के खिलाफ प्रतिरोधकता को बेहतर बनाने का एक माध्यम है। योगासन जिनसे माइग्रेन में मिलेगी राहत:

  1. सेतु बांधासन (सेतु मुद्रा)
    यह आसन शरीर में रक्त संचार को नियंत्रित रखने में मदद करता है। सेतु बांधासन मन को शांत करने के साथ ही मस्तिष्क को आराम देता है और व्यग्रता को कम करता है। इसके अलावा इस आसन को करते समय रक्त मस्तिष्क की ओर बढ़ता है और दर्द से राहत पाने में मदद करता है।
  2. बालासन
    बेहद उपयुक्त माना जाने वाला बाल मुद्रा आसन एक महान स्ट्रेस बस्टर है। इस आसन के दौरान आपके कूल्हों, जांघों, एड़ियों में हलका सा खिंचाव महसूस होगा और यह आसन मन को शांत और तनाव और थकान से छुटकारा दिलाएगा। बाल मुद्रा आसन तंत्रिका तंत्र को भी शांत करता है व प्रभावी रूप से दर्द को कम करता है।
  3. मर्जरियासन (बिल्ली की मुद्रा)
    मर्जरियासन रक्त संचार को सुधारता है। मन को शांत करता है। तनाव को दूर भगाता है और श्वसन को बेहतर बनाता है। इस आसन की सबसे अच्छी बात यह है कि यह थकी हुई मांसपेशियों को आराम दिलाता है जो दर्द से छुटकारा पाने का एक प्रभावी तरीका है।
  4. पश्चिमोत्तानासन
    यह आसन मस्तिष्क को शांत करता है, तनाव से राहत दिलाता है और सिरदर्द से भी राहत दिलाता है।
  5. अधोमुख श्वानासन
    इस आसन में मस्तिष्क में रक्त परिसंचरण बढ़ता है जिससे सिरदर्द में राहत मिलती है।
  6. पद्मासन
    यह कमल मुद्रा दिमाग को आराम पहुंचा कर और सिरदर्द से राहत दिलाती है।

Check Also

Embrace yoga to age gracefully - June 21 is International Yoga Day

Embrace yoga to age gracefully: June 21 is IYD

Yoga won’t give you immortality but this ancient discipline of bringing union between the body, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *