Home » Yoga » Yoga Asana for Throat योग से दूर होंगे गले के रोग
Yoga Asana for Throat योग से दूर होंगे गले के रोग

Yoga Asana for Throat योग से दूर होंगे गले के रोग

शून्य मुद्रा

विधि

Shunya Mudra
Shunya Mudra

किसी आरामदायक आसन में बैठकर कमर व गर्दन को सीधा रख लें। अब दोनों हाथों की मध्यमा अंगुलियों को मोड़कर उनके सिरे को अंगूठे की जड़ में लगा लें और थोड़ा दबाएं। अब अंगूठों से भी मध्यमा अंगुलियों को ऊपर से थोड़ा दबाएं। बाकि तीनों अंगुलियां सीधी रहेंगी। हाथों को घुटनों पर रख लें, यहां हथेलियों का रुख ऊपर की ओर रहेगा। हथेली टाइट रखें व कलाई से ऊपर कंधे तक हाथ को ढीला रखें। पूरे लाभ के लिए 10-15 मिनट तक इस मुद्रा को लगा लें।

लाभ

यह गले व थायरॉइड ग्रंथि के रोगों को दूर करने में बड़ा लाभकारी है। इसके अभ्यास से कानों के रोग दूर होते हैं व दांतों को भी मजबूती मिलती है।

पृथ्वी मुद्रा

विधि

Prithvi Mudra
Prithvi Mudra

किसी आरामदायक आसन में बैठकर कमर व गर्दन को सीधा रखें। दोनों हाथों की अनामिका (रिंग फिंगर) अंगुलियों को मोड़कर उनके सिरे को अंगूठे के सिरे के साथ लगाकर थोड़ा दबा लें। बाकि तीनों अंगुलियां सीधी रहेंगी। दोनों हाथों को घुटनों पर रख लें, यहां हथेलियों का रुख ऊपर की ओर रहेगा। हथेली टाइट व कलाई से ऊपर कंधे तक हाथ ढीला रहेगा। 10 से 15 मिनट तक इस मुद्रा को लगाए रखें।

लाभ

यह शारीरिक दुर्बलता को दूर कर वजन बढ़ाती है। शरीर में स्फूर्ति, कांति वा तेज बढ़ाकर जीवनशक्ति का विकास करती है। इसके अभ्यास से पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है।

Check Also

What is a carrom ball in cricket?

It is a form of bowling. The ball is held between the thumb, forefinger and …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *