Home » Tag Archives: Patriotic Songs

Tag Archives: Patriotic Songs

देश प्रेम की भावना जगाते फ़िल्मी गीत

देश प्रेम की भावना जगाते फ़िल्मी गीत

देश में हिंदी फिल्म निर्माताओं में देश प्रेम और राष्ट्र भक्ति की भावना सर्वदा प्रवाहित रही है और यही राष्ट्र प्रेम की भावना उनकी फिल्मों से जुड़े विभिन्न गीतकारों के राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत उनके द्वारा रचित गीतों में भी स्पष्ट रूप से परिलक्षित होती है। राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता बाल फिल्म ‘हम पंछी एक डाल के’ में सांप्रदायिक सौहार्द का …

Read More »

हमारा तुम्हारा वतन एक है – वर्षा दीक्षित

हमारा तुम्हारा वतन एक ही है, साजन एक ही है, भजन एक ही है। धरा का है बिछौना, दिशाओं का है घेरा, वाही रात-दिन का उजाला अँधेरा। गगन एक ही है, पवन एक ही है, हमारा तुम्हारा वतन एक ही है। ये नदियां, ये पर्वत, शिखर, ऊंचे नीचे, ये रेती, ये खेती, ये जंगल-बगीचे। चमन रक ही है, अमन एक …

Read More »

देश हमारा आँख का तारा – पूर्णिमा वर्मन

देश हमारा आंख का तारा, हम सब इस पर हों कुर्बान। जय जय भारत देश महान। इसी देश पर अमर-तिरंगा लहर लहर लहरा कर के इसी देश में गंगाजमुना कल कल नीर बहा कर के हमें ज्योतिमय राह दिखाएं करें हमारा ही कल्यान। जय जय भारत देश महान। जिसको सबने सदा दुलारा इसी देश पर ताज है प्यारा सारे जग …

Read More »

राष्ट्रगान मुझको भी आता है – मनोहर लाल ‘रत्नम’

जन गण मन बीमार पड़ा है, अधिनायक है कहाँ सो गया, भारत भाग्य विधाता भी तो, इन गलियों में कहीं खो गया। मेरे भारत के मस्तक पर, है आतंक की काली छाया– कर्णधार जितने भारत के, इन सबको है संसद भाता। मुझसे यदि पूछ कर देखो, राष्ट्रगान मुझको है आता॥ आग लगी है पंजाब मेरे में, सिंधु और गुजरात जल …

Read More »

जन गण मन अधिनायक जय हे – रबीन्द्रनाथ टैगोर

जन गण मन अधिनायक जय हे, भारत भाग्य विधाता। पंजाब सिंधु गुजरात मराठा द्राविड़ उत्कल बंग विंध्य हिमाचल यमुना गंगा उच्छल जलधि तरंग। तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशिष मागे, गाहे तव जय गाथा। जन गण मंगल दायक जय हे, भारत भाग्य विधाता। जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे॥ राष्ट्रगान के बाद वाले पद …

Read More »