Home » Tag Archives: Love Poems

Tag Archives: Love Poems

Longest Love Poem

Longest Love Poem

Banská Štiavnica, Slovakia – April 23, 2017 – “Marína” is a great work of a love and reflective poetry in Slovak literature written by Andrej Sládkovič in 1845; the 291 stanzas (2900 lines) long love poem about realistic but unfulfilled love between the author and his muse Marína Pischlová; it sets the new world record for the Longest Love Poem. …

Read More »

रूप के बादल – गोपी कृष्ण ‘गोपेश’

roop-ke-badal-gopi-krishna-gopesh

रूप के बादल यहाँ बरसे, कि यह मन हो गया गीला! चाँद–बदली में छिपा तो बहुत भाया ज्यों किसी को फिर किसी का ख्याल आया और, पेड़ों की सघन–छाया हुई काली और, साँस काँपी, प्यार के डर से रूप के बादल यहाँ बरसे… सामने का ताल, जैसे खो गया है दर्द को यह क्या अचानक हो गया है? विहग ने …

Read More »

Wind And Window Flower – Robert Frost

Wind And Window Flower - Robert Frost

Lovers, forget your love, And list to the love of these, She a window flower, And he a winter breeze. When the frosty window veil Was melted down at noon, And the caged yellow bird Hung over her in tune, He marked her through the pane, He could not help but mark, And only passed her by To come again …

Read More »

Sad Frustration Hindi Poem चुप सी लगी है – नीलकमल

चुप सी लगी है - नीलकमल

चुप सी लगी है। अन्दर ज़ोर एक आवाज़ दबी है। वह दबी चीख निकलेगी कब? ज़िन्दगी आखिर शुरू होगी कब? कब? खुले मन से हंसी कब आएगी? इस दिल में खुशी कब खिलखिलाएगी? बरसों इस जाल में बंधी, प्यास अभी भी है। अपने पथ पर चल पाऊँगी, आस अभी भी है। पर इन्त्ज़ार में दिल धीरे धीरे मरता है धीरे …

Read More »

Dharamvir Bharati Old Classic Hindi Poem प्रार्थना की एक अनदेखी कड़ी

Dharamvir Bharati Old Classic Hindi Poem प्रार्थना की एक अनदेखी कड़ी

प्रार्थना की एक अनदेखी कड़ी बाँध देती है तुम्हारा मन, हमारा मन, फिर किसी अनजान आशीर्वाद में डूबन मिलती मुझे राहत बड़ी। प्रात सद्य:स्नात, कन्धों पर बिखेरे केश आँसुओं में ज्यों, धुला वैराग्य का सन्देश चूमती रह-रह, बदन को अर्चना की धूप यह सरल निष्काम, पूजा-सा तुम्हारा रूप जी सकूँगा सौ जनम अंधियारियों में, यदि मुझे मिलती रहे, काले तमस की छाँह में ज्योति की यह …

Read More »

Bollywood Emotional Hindi Song आ लौट के आजा मेरे मीत

Bollywood Emotional Hindi Song आ लौट के आजा मेरे मीत

आ लौट के आजा मेरे मीत तुझे मेरे गीत बुलाते हैं मेरा सूना पड़ा रे संगीत तुझे मेरे गीत बुलाते हैं बरसे गगन मेरे बरसे नयन देखो तरसे है मन अब तो आजा शीतल पवन ये लगाए अगन ओ सजन अब तो मुखड़ा दिखा जा तूने भली रे निभाई प्रीत तूने भली रे निभाई प्रीत तुझे मेरे गीत बुलाते हैं …

Read More »

Agyeya Contemplation Poem on Lost Love प्राण तुम्हारी पदरज फूली

प्राण तुम्हारी पदरज फूली मुझको कंचन हुई तुम्हारे चंचल चरणों की यह धूली! आईं थीं तो जाना भी था – फिर भी आओगी‚ दुख किसका? एक बार जब दृष्टिकरों से पदचिन्हों की रेखा छू ली! वाक्य अर्थ का हो प्रत्याशी‚ गीत शब्द का कब अभिलाषी? अंतर में पराग सी छाई है स्मृतियों की आशा धूली! प्राण तुम्हारी पदरज फूली! ∼ …

Read More »

Bollywood Old Classic Hindi Song ज़रा सामने तो आओ छलिये

Bollywood Old Classic Hindi Song ज़रा सामने तो आओ छलिये

ज़रा सामने तो आओ छलिये छुप छुप छलने में क्या राज़ है यूँ छुप ना सकेगा परमात्मा मेरी आत्मा की ये आवाज़ है ज़रा सामने … हम तुम्हें चाहे तुम नहीं चाहो ऐसा कभी नहीं हो सकता पिता अपने बालक से बिछुड़ से सुख से कभी नहीं सो सकता हमें डरने की जग में क्या बात है जब हाथ में …

Read More »

तुम और मैंः दो आयाम – रामदरश मिश्र Hindi Love Poem

तुम और मैंः दो आयाम - रामदरश मिश्र Hindi Love Poem

(एक) बहुत दिनों के बाद हम उसी नदी के तट से गुज़रे जहाँ नहाते हुए नदी के साथ हो लेते थे आज तट पर रेत ही रेत फैली है रेत पर बैठे–बैठे हम यूँ ही उसे कुरेदने लगे और देखा कि उसके भीतर से पानी छलछला आया है हमारी नज़रें आपस में मिलीं हम धीरे से मुस्कुरा उठे। (दो) छूटती …

Read More »

माँ का रूप – शाहीन अवस्थी Mother’s Day Special Hindi Poem

माँ का रूप - शाहीन अवस्थी Mother's Day Special Hindi Poem

भगवान का दूसरा रूप है माँ, उनके लिए दे देंगे जान, हमको मिलता जीवन उनसे, कदमो में है स्वर्ग बसा, संस्कार वह हमे सिखलाती, अच्छा बुरा हमे बतलाती, हमारी गलतियों को सुधारती, प्यार वह हम पर बरसाती, तबियत अगर हो जाये ख़राब, रात रात भर जागते रहना, माँ बिन जीवन है अधूरा, खाली खाली सुना सुना, खाना पहले हमे खिलाती, …

Read More »