Home » Religions in India » भीमाकली मंदिर, सराहन, हिमाचल प्रदेश
भीमाकली मंदिर, सराहन, हिमाचल प्रदेश

भीमाकली मंदिर, सराहन, हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश के सराहन में भीमाकली मंदिर अवस्थित है। देवी सती का बायां कान इस स्थान पर गिरा था इसलिए यह स्थान शक्तिपीठ कहलाता है। मान्यता है की इस मंदिर का निर्माण लगभग 800 वर्ष पूर्व हुआ था। दन्त कथा के अनुसार, देवी भीमाकली महान हिंदू ऋषि ब्रह्मगिरी के लकड़ी के स्टाफ में सबसे पहले दिखाई दी।मंदिर परिसर के मध्य एक नवीन मंदिर का निर्माण 1943 में किया गया। मंदिर में देवी भीमाकली के दो स्वरूप हैं एक कुंवारी और एक औरत के रूप में। इसके अतिरिक्त रघुनाथ और भैरों के नरसिंह तीर्थ को समर्पित दो अन्य मंदिर भी हैं। शाही परिवार के महल मंदिर के निकट ही स्थापित हैं। इस मंदिर के कपाट केवल सुबह और शाम ही दर्शनों के लिए खुलते हैं।

तिब्बती शैली में बने इस मंदिर पर बौद्ध और हिंदू धर्मों का प्रभाव है। मंदिर की स्लेट की छत, गोल्डन टॉवर, पगोडा और एक नक्काशीदार चांदी का दरवाजा है। दशहरे पर यहां पशु बलि उत्सव बड़े पैमाने पर मनाया जाता है। जिसे देखने के लिए दूर-दराज से लोग आते हैं।

Check Also

Kasauli Music Festival Images

Kasauli Music Festival Images, Stock Photos

Kasauli Rhythm & Blues Music Festival (KRBF) is an annual music festival held in Kasauli, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *