Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » याद करो – ओम प्रकाश बजाज
याद करो - ओम प्रकाश बजाज

याद करो – ओम प्रकाश बजाज

अपनी खुशियों की सफलताओं को,
उपलब्धियों को याद करो।

जब- जब कुछ विशेष किया हो,
ऐसे अवसरों को याद करो।

जब तुम्हारी प्रशंसा हुई हो,
तुम्हारा का सराहा गया हो।

तुम्हारी सजगता – तत्परता के कारण,
कोई नुक्सान होने से बच गया हो।

कभी – कभी खाली बैठे ठाले,
ऐसी घटनाओं को याद करो।

इससे तुम्हारा उत्साह बढ़ेगा,
कुछ नया करने का मन करेगा।

~ ओम प्रकाश बजाज

Check Also

पानी बचाओ पर बाल-कविता: नहीं व्यर्थ बहाओ पानी

पानी बचाओ पर बाल-कविता: नहीं व्यर्थ बहाओ पानी

सदा हमें समझाए नानी, नहीं व्यर्थ बहाओ पानी। हुआ समाप्त अगर धरा से, मिट जायेगी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *