Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » सोच के ये गगन झूमे – आनंद बक्शी
सोच के ये गगन झूमे - आनंद बक्शी

सोच के ये गगन झूमे – आनंद बक्शी

सोच के ये गगन झूमे
अभी चाँद निकल आएगा
झिलमिल चमकेंगे तारे

चाँद जब निकल आएगा
देखेगा न कोई गगन को
चाँद को ही देखेंगे सारे
चाँद जब निकल आएगा

फूल जो खिले ना कैसे
बागों में आए बहार
दीप न जले तो साँवरिया
कैसे मिटे अंधकार
रात देखो कितनी है काली
अभी चाँद निकल आएगा

चाँदनी से भी तुम हसीं हो
नज़दीक आओ जरा
चाँद के निकलने तलक तो
तुम जगमगाओ जरा
रात देखो कितनी है काली
अभी चाँद निकल आएगा

चाँद जब निकल आएगा
देखेगा न कोई गगन को
चाँद को ही देखेंगे सारे
चाँद जब निकल आएगा

~ आनंद बक्शी

Singers: Lata Mangeshkar, Manna Dey
Year: 1971
Movie: Jyoti

Check Also

Find The Similar

Find The Similar – Fun Activity for Kids

Find The Similar – एक समान ढूंढे – इस puzzle में आप को एक चित्र दिखाया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *