Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » Hindi Poem for Welcoming New Year नए वर्ष का हो अभिनंदन
Hindi Poem for Welcoming New Year नए वर्ष का हो अभिनंदन

Hindi Poem for Welcoming New Year नए वर्ष का हो अभिनंदन

नए वर्ष का हो अभिनंदन
महक उठे हर मन का चंदन
झिलमिल आशा का स्पंदन
बांधे इक नूतन अनुबंधन…

आए वर्ष दो हज़ार सतरा
लेकर खुशियों की सौगात
मिट जाए दुखदाई क्रंदन
नए वर्ष का हो अभिनंदन…

बैर भाव मिट जाएं सारे
स्नेहिल पुष्प खिले फिर प्यारे
हर घर में छाए निरानंदन
नए वर्ष का हो अभिनंदन…

उन्नति पथ पर बढ़े संसार
मानवता का हो विस्तार
सीमाओं का रहे न बंधन
नए वर्ष का हो अभिनंदन…

गौरव ग्रोवर

आपको गौरव ग्रोवर जी की यह कविता “नए वर्ष का हो अभिनंदन” कैसी लगी – आप से अनुरोध है की अपने विचार comments के जरिये प्रस्तुत करें। अगर आप को यह कविता अच्छी लगी है तो Share या Like अवश्य करें।

यदि आपके पास Hindi / English में कोई poem, article, story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Id है: submission@4to40.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ publish करेंगे। धन्यवाद!

Check Also

What are themes for World Population Day?

What are themes for World Population Day?

In 1989, the Governing Council of the United Nations Development Programme recommended that 11 July …

One comment

  1. Awesome poem

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *