Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा – राजेंद्र कृष्ण

जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा – राजेंद्र कृष्ण

Dara Singhजहाँ डाल-डाल पर,
सोने की चिड़ियां करती है बसेरा,
वो भारत देश है मेरा…

जहाँ सत्य अहिंसा और धर्म का,
पग-पग लगता डेरा,
वो भारत देश है मेरा…

ये धरती वो जहां ऋषि मुनि,
जपते प्रभु नाम की माला,
जहां हर बालक एक मोहन है,
और राधा हर एक बाला,
जहां सूरज सबसे पहले आ कर,
डाले अपना फेरा,
वो भारत देश है मेरा…

अलबेलों की इस धरती के,
त्योहार भी है अलबेले,
कहीं दीवाली की जगमग है,
कहीं हैं होली के मेले,
जहां राग रंग और् हँसी खुशी का,
चारो और है घेरा,
वो भारत देश है मेरा…

जहां आसमान से बाते करते,
मंदिर और शिवाले,
जहां किसी नगर मे किसी द्वार पर,
को न ताला डाले,
प्रेम की बंसी जहां बजाता,
है ये शाम सवेरा,
वो भारत देश है मेरा…

जहाँ सत्य अहिंसा और धर्म का,
पग-पग लगता डेरा,
वो भारत देश है मेरा…

∼ राजेंद्र कृष्ण

चित्रपट : सिकंदर-ए-आज़म (१९६५)
गीतकार : राजेंद्र कृष्ण
संगीतकार : हंसराज बहल
गायक : मोहम्मद रफ़ी
सितारे : पृथ्वीराज कपूर, दारा सिंह, मुमताज़

About Rajendra Krishan

Rajendra Krishan (6 June 1919 – 6 June 1988) also credited as Rajinder Krishan, was an Indian poet, lyricist and screenwriter. He was first noted for the script and lyrics of the Motilal-Suraiya starrer Aaj Ki Rat (1948).[1] After the assassination of Mahatma Gandhi, Krishan wrote a song Suno Suno Aye Duniyawalon, Bapu Ki Yeh Amar Kahani. The song was sung by Mohammed Rafi and composed by Husnlal Bhagatram, and was a great hit. He also tasted success as a lyricist with the films Badi Bahen (1949) and Lahore (1949).

Check Also

Kareena Kapoor - Biography, Early Life and Acting Career

Kareena Kapoor – Biography, Early Life and Acting Career

Kareena was born to Sindhi-speaking Babita (nee Shivdasani) and Punjabi-speaking Randhir Kapoor on September 21, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *