Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » गमले
Flower Pots

गमले

भांति-भांति के गमले आते,
मिटटी के गमले कुम्हार बनाते!

टोकरे में रख कर बेचने आते,
गली-गली आवाज़ लगाते!

यथा स्थान फिर उन्हें सजाते!
गमलो को भी समय-समय पर,
साफ़ करते और धोते जाते!

कई लोग खली मर्तबान, बोतलें,
डिब्बे भी इस काम में लाते!

एक जैसे गमलो में खिले फूल,
घर की शोभा खूब बढ़ाते!

~ ओम प्रकाश बजाज

Check Also

People Working & Labour Day Images

People Working & Labour Day Images

People Working & Labour Day Images: Labour Day is an annual holiday to celebrate the achievements …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *