Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं – शकील बदायूंनी
apni-azadi-ko-hum-hargiz-mita-sakte-nahi-leader

अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं – शकील बदायूंनी

अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकीन सर झुका सकते नहीं

Leaderहमने सदियों में ये आज़ादी की नेमत पाई है
सैकडों कुरबानियां दे कर ये दौलत पाई है
मुस्कुराकर खाई हैं सीनों पे अपने गोलियां
कितने वीरानों जो गुजरे हैं पर जन्नत पाई है
खाक में हम अपनी इज्जत को मिला सकते नहीं

अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं…

क्या चलेगी जुल्म की एहल-ए-वफा के सामने
आ नहीं सकता कोई शोला हवा के सामने
लाख फौजे ले के आए अम्न का दुश्मन कोई
रुक नहीं सकता हमारी एकता के सामने
हम वो पत्थर हैं जिसे दुश्मन हिला सकता नहीं

अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं…

वक्त की आवाज के हम साथ चलते जायेंगे
हर कदम पर जिंदगी का रूख बदलते जायेंगे
गर वतन में भी मिलेगा कोई गद्दार-ए-वतन
अपनी ताकत से हम उस का सर कुचलते जायेंगे
एक धोका खा चुके हैं और खा सकते नहीं

अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं…

हम वतन के नौजवान हैं, हम से जो टकरायेगा
वो हमारी ठोकरों से खाक में मिल जायेगा
वक्त के तुफान में बह जायेंगे जुल्म-ओ-सितम
आसमां पर ये तिरंगा उम्र भर लहरायेगा
जो सबक बापू ने सिखलाया वो भूला सकते नहीं

सर कटा सकते हैं लेकीन सर झुका सकते नहीं
अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं

शकील बदायूंनी

चित्रपट : लीडर (१९६४)
गीतकार : शकील बदायूंनी
संगीतकार : नौशाद
गायक : मोहम्मद रफी
सितारे : दिलीप कुमार, वैजंतीमाला, जयंत

Leader is a 1964 CinemaScope Hindi political drama film. The film is produced by Sashadhar Mukherjee and directed by Ram Mukherjee . The film stars Dilip Kumar, Vyjayanthimala and Jayant. The story of the film was written by Dilip Jain.


Check Also

Shankar Mahadevan's Ganesh Chaturthi Devotional Song मोरया रे

मोरया रे – जावेद अख्तर

मेरे सारे पलछिन सारे दिन तरसेंगे सुन ले तेरे बिन तुझको फिर से जलवा दिखाना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *