Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » अच्छे बच्चे – विजय अरोड़ा
अच्छे बच्चे - विजय अरोड़ा

अच्छे बच्चे – विजय अरोड़ा

Good Girlकहना हमेशा बड़ो का मानते
माता-पिता को शीश नवाते
अपने गुरुजनों का मान बढ़ाते
वे ही बच्चे अच्छे कहलाते !

Boy Bathingनहा-धोकर रोज शाला जाते
पढाई से जी न चुराते
परीक्षा में सदा अव्वल आते
वे ही बच्चे अच्छे कहलाते !

Two Friendsकभी न किसी से झगड़ा करते
बात हमेशा सच्ची कहते
उंच-नीच का भाव न लाते
वे ही बच्चे सच्चे कहलाते !

Boy Readingकठिनाइयों से कभी न घबराते
हमेशा आगे ही बढ़ते जाते
मीठी बातों से सबका मन बहलाते
वे ही बच्चे अच्छे कहलाते !

∼ विजय अरोड़ा

Check Also

गए थे नमाज पढ़ने, रोजे गले पड़ गए – Folktale on Hindi Proverb

गए थे नमाज पढ़ने, रोजे गले पड़ गए Folktale on Hindi Proverb

एक मोहल्ले में काजी का परिवार था। सब मोहल्ले वाले काजी के परिवार का सम्मान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *