Home » Folktales For Kids » Folktales In Hindi » एक से भले दो-Hindi Folktale on Proverb Two Heads Are Better Than One
एक से भले दो-Hindi Folktale on Proverb Two Heads Are Better Than One

एक से भले दो-Hindi Folktale on Proverb Two Heads Are Better Than One

एक परिवार था| उस परिवार में बूढी माँ और एक उसका लड़का| एक लड़की भी थी जो ससुराल में थी| बूढी माँ जीवों से बहुत प्यार करती थी| जब लड़का काम पर करता था, तो माँ अकेली रह जाती थी| उस समय बुढ़िया कुत्ता, तोता और नेवला से मन लगाए रखती थी| उसका लड़का भी इनसे बहुत प्यार करता था|

एक दिन लड़के ने अपनी बहन के जाने के लिए कार्यक्रम बनाया| दो दिन का रास्ता था| चलते समय लड़के ने कुत्ते को अपने साथ ले जाना चाहा| उसने सोचा था कि रास्ता ठीक से कट जाएगा| लेकिन उसकी माँ ने मना करते हुए कहा कि यह घर की रखवाली करता है| रास्ते में तमाम कुत्ते मिलेंगे| उनसे बचना मुश्किल हो जाएगा| उसने जब तोता को ले जाने के लिए कहा तो माँ ने कहा कि इससे पूरे दिन बातें करती रहती हूँ| रास्ते में कोई बिल्ली मार देगी| फिर उसकी माँ ने कहा कि इस नेवले को लेजा| तू इसी से अधिक शरारतें करता है|

दूसरे दिन जब वह चला तो नेवले को साथ ले लिया| उसके गले में लंबी पतली रस्सी बांद राखी थी| नेवला दौड़ता हुआ आगे – आगे चला जा रहा था| चलते – चलते रात हो गई| वह गाँव के बाहर मंदिर के पास पीपल के पेड़ के नीचे रुक गया| वहीँ पास में एक कुआँ भी था| खाना खाकर नेवले को खिलाकर धरती पर ही बिस्तर लगाया| नेवले कि रस्सी पीपल कि जड़ से बांद दी और सो गया| नेवला भी बैठा – बैठा ऊंघता रहा|

रात को वहां एक सर्प आया और उस लड़के को काटने के लिए फुंकारा| सर्प कि फुंकार से नेवले की आँख खुल गई| लड़के को संकट में देखकर नेवले ने सर्प पर आक्रमण कर दिया| काफी देर तक दोनों लड़ते रहे| नेवला जख्मी हो गया लेकिन उसने सर्प के टुकड़े – टुकड़े कर दिए|

लड़का बहुत थका हुआ था इसलिए उसकी नींद नही खुली| सुबह जब उठा, तो उसने अपने आस – पास खून देखा| फिर उसकी दृष्टि मरे सर्प के टुकड़ों पर गई| जख्मी नेवला बैठा था| उधर से एक साधू निकला और वहां आकर रुक गया| एक – दो व्यक्ति और आ गए थे| साधू को घटना के समझते देर नही लगी| और यह कहते चल दिए – ‘एक से भले दो‘|

Check Also

क्रिसमस गिफ्ट Inspirational Hindi Story about Christmas Gift

क्रिसमस गिफ्ट Inspirational Hindi Story about Christmas Gift

आज क्रिसमस का दिन था और मारिया अपनी बड़ी -बड़ी नीली आँखों से खिड़की के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *