Home » Culture & Tradition of India » Demonetisation of Christmas Festival कैशलेस सैंटा क्लॉज
Demonetisation of Christmas Festival कैशलेस सैंटा क्लॉज

Demonetisation of Christmas Festival कैशलेस सैंटा क्लॉज

लखनऊ: इस बार क्रिसमस पर सैंटा क्लॉज का बाजार भी कैशलेस हो गया है। क्रिसमस के दो दिन पहले तक जहां बाजार ग्राहकों से पटे रहते थे, वहीं इस बार बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ है। कैश न होने के कारण लोग इस बार ऑनलाइन शॉपिंग को तरजीह दे रहे हैं। ग्राहकों की भीड़ को देखते हुए ई-कॉमर्स वेबसाइट्स ने क्रिसमस पर खूब छूट भी दे रखी है। जो लोग बाजार से खरीदारी कर रहे हैं, वे भी कैश की जगह कार्ड से पेमेंट कर रहे हैं।

गोमतीनगर निवासी विवेक जॉन ने बताया कि उनके दो बेटे हैं। हर बार वह क्रिसमस के तोहफे बाजार से लेते थे, लेकिन इस बार कैश की दिक्कत के कारण ऑनलाइन ऑर्डर कर दिया है। जिसकी क्रिसमस से पहले डिलिवरी हो जाएगी। आशियाना निवासी साहिल ने बताया कि बाजार में इस बार तोहफे काफी महंगे हैं। इसके मुकाबले ई-कॉमर्स वेबसाइट पर अच्छा डिस्काउंट मिल रहा है। इसकी वजह से ऑनलाइन खरीदारी में ही फायदा ज्यादा दिख रहा है।

40 प्रतिशत तक गिरी सेल

जनपथ के गिफ्ट व्यापारी लखन केसवानी ने बताया कि इस बार 40 प्रतिशत तक सेल कम है। ऐसा तब है जबकि हमने कार्ड से पेमेंट के लिए स्वाइप मशीन तक लगा रखी है। जिनके यहां कार्ड से पेमेंट की सुविधा नहीं है वहां तो स्थिति और खराब है। पिछले साल तक क्रिसमस पर बहुत से लोग शौकिया क्रिसमस-ट्री व तोहफे खरीदने के लिए आते थे। इस बार सिर्फ वहीं लोग आ रहे हैं जो क्रिसमस सेलिब्रेट करते हैं। वहीं उनकी खरीदारी में भी कमी आ गई है।

फाइबर ट्री इस बार ऑन डिमांड

क्रिसमस पर इस बार फाइबर क्रिसमस ट्री ऑन डिमांड है। इसकी खास बात यह है कि इसे ज्यादा सजाने की जरूरत नहीं पड़ती। सामान्य क्रिसमस ट्री को लोग लाइटों से सजाते हैं और उसमें गिफ्ट भी रखते हैं। जबकि फाइबर ट्री में लाइट पहले से लगी है, जो देखने में भी काफी आकर्षक है। इसकी कीमत 4000 रुपये से शुरू है। जबकि स्नो-ट्री और वॉइट पाइन ट्री भी इस बार कफी बिक रहा है, इसकी कीमत 1200 रुपये शुरू है। इसके अलावा क्रिसमस ट्री को सजाने के लिए कई नए प्लास्टिक टॉयज भी आए हैं, जिनकी कीमत 500 रुपये प्रति सेट से शुरू है।

क्रिसमस कैप हॉट फेवरेट

इस बार भी क्रिसमस पर सेंटा की रेड कैप और मास्क हॉट फेवरेट है। ये बाजार में 15 से 20 रुपये में आसानी से मिल रही है कम कीमत होने के कारण इस बार भी सबसे ज्यादा सेल इसकी की है। व्यापारियों के मुताबिक नोटबंदी की वजह से इस बार कैप ज्यादा बिक रही हैं। सेंटा के सूट के खरीदार कम हैं।

Check Also

Parenting – Nurturing Success: Build Success into the Relationship

Parenting – Nurturing Success: Build Success into the Relationship

A sense of success grows slowly in children, since they are prone to feeling inadequate …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *