Home » Religions in India

Religions in India

मानसी गंगा, गोवर्धन, मथुरा Manasi Ganga Kund

Manasi Ganga Kund, Govardhan, Mathura मानसी गंगा, गोवर्धन, मथुरा

मानसी गंगा एक असमान आकार का कुण्ड है। कुसुम सरोवर से प्राय: ढेड़ मील दक्षिण-पश्चिम की तरफ ये मानसी गंगा तीर्थ अवस्थित है। भगवान श्रीकृष्ण के मानस-संकल्प से यह सरोवर प्रकट हुआ है इसलिये इसका नाम हुआ मानसी गंगा। कहा जाता है कि एक बार श्री नन्द महाराज जी व माता यशोदा देवी जी ने गंगा स्नान करने के लिए …

Read More »

मच्छी माता मंदिर, मगोद डुंगरी गांव, वलसाड तहसील, गुजरात

Macchi Mata Mandir, Magod Dungri, Valsad, Gujarat मच्छी माता मंदिर

भारत में एक ऐसा मंदिर है जहां पर व्हेल मछली की हड्डियों का पूजन होता है। गुजरात में वलसाड तहसील के मगोद डुंगरी गांव में ‘मत्स्य माताजी’ का मंदिर स्थित है। लगभग 300 वर्ष पुराने इस मंदिर का निर्माण मछुआरों ने किया था। समुद्र में जाने से पूर्व वे इस मंदिर में माथा टेककर माता का आशीर्वाद लेते थे। प्राचीन …

Read More »

करणी माता मंदिर, देशनोक, बीकानेर

Karni Mata Temple of Rats, Deshnoke, Bikaner करणी माता मंदिर

घर में एक चूहा देखने पर भी हम विचलित हो उठते हैं। चूहों से प्लेग नामक रोग फैलता है जिसके कारण लोग उन्हें अपने घरों से भगा देते हैं। लेकिन भारत में माता का एक ऐसा मंदिर है जहां लगभग 20,000 चूहे हैं अौर उनके द्वारा झूठा किया प्रसाद भक्तों को दिया जाता है। हैरानीजनक बात यह है कि मंदिर …

Read More »

मायादेवी मंदिर, हरिद्वार, उत्तराखंड

मायादेवी मंदिर, हरिद्वार Maya Devi Temple, Haridwar

हरिद्वार को मायापुरी नाम से भी पुकारा जाता है। इसका कारण यह है कि यहां भगवती मायादेवी का मंदिर स्थित है। मायादेवी भगवती सती का ही एक स्वरूप हैं जिन्होंने अपने पिता दक्ष प्रजापति द्वारा किए गए यज्ञ में खुद सहित भगवान शिव को न बुलाए जाने पर यज्ञाग्रि द्वारा देहोत्सर्ग कर दिया था: विश्वोद्भवस्थिति लयदिषु हेतु मेकं, गौरीपति विदित …

Read More »

श्री त्रिपुर मां बाला सुंदरी मंदिर, देवबंद, उत्तर प्रदेश

Shri Bala Sundri Devi Mata Temple, Deoband श्री त्रिपुर मां बाला सुंदरी मंदिर, देवबंद, उत्तर प्रदेश

सहारनपुर जनपद मुख्यालय से 46 किलोमीटर दूर स्थित देवबंद नगर में माता दुर्गा के मां राजेश्वरी त्रिपुर बाला सुंदरी स्वरूप की पूजा की जाती है। हर साल यहां चैत्र मास की चतुर्दशी पर मेला लगता है। मेले में देश के कोने-कोने से लाखों भक्त मां के दर्शनों हेतु आते हैं। यहां मेला 15 दिनों तक चलता है। मां बाला सुंदरी …

Read More »

बाबा रामदेव जी पीर, रामदेवरा, जैसलमेर, राजस्थान

बाबा रामदेव जी पीर, रामदेवरा, जैसलमेर

बाबा रामदेव जी पीर राजस्थान के प्रसिद्ध लोक देवता हैं। वह साम्प्रदायिक सद्भाव तथा अमन के प्रतीक हैं। बाबा का अवतरण वि. सं. 1409 को भाद्रपद शुक्ल दूज के दिन तोमर वंशीय राजपूत तथा रुणीचा के शासक अजमल जी के घर हुआ। उनकी माता का नाम मैणादे था। उन्होंने पूरा जीवन शोषित, गरीब और पिछड़े लोगों के बीच बिताया तथा …

Read More »

श्री त्रिमूर्ति धाम मंदिर, कालका, हरियाणा

श्री त्रिमूर्ति धाम मंदिर, कालका, हरियाणा

शिवालिक पहाडिय़ों पर स्थित कालका में चंडीगढ़-शिमला राष्ट्रीय राजमार्ग पर मां काली का मंदिर है। इसके पूर्व में मुकुटमणि के रूप में त्रिमूर्ति धाम है। यह पुरातन हिंदू देव स्थान है। यहां एक शिला पर तीन देव-हनुमान जी, प्रेतराज सरकार एवं भैरव एक साथ हैं जो बालाजी हनुमान या त्रिमूर्ति धाम के नाम से विख्यात है। 1988 से पहले यह …

Read More »

मोढ़ेरा सूर्य मंदिर, गुजरात Modhera Sun Temple, Gujarat

मोढ़ेरा सूर्य मंदिर, अहमदाबाद Modhera Sun Temple, Gujarat

मोढ़ेरा का विश्व प्रसिद्ध सूर्य मंदिर, अहमदाबाद से तकरीबन सौ किलोमीटर की दूरी पर पुष्पावती नदी के तट पर स्थित है। माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण सम्राट भीमदेव सोलंकी प्रथम (ईसा पूर्व 1022-1063 में) ने करवाया था। इस आशय की पुष्टि एक शिलालेख करता है जो मंदिर के गर्भगृह की दीवार पर लगा है, जिसमें लिखा गया …

Read More »

बाबा हरभजन सिंह मंदिर, गंगटोक, सिक्किम

बाबा हरभजन सिंह मंदिर, गंगटोक, सिक्किम

क्या कोई सैनिक मृत्यु पश्चात भी अपनी ड्यूटी कर सकता है? क्या किसी मृत सैनिक की आत्मा, अपना कर्तव्य निभाते हुए देश की सीमा की रक्षा कर सकती है? आप सब को यह सवाल अजीब से लग सकते है, आप सब कह सकते है की भला ऐसा कैसे मुमकिन है? पर सिक्किम के लोगो और वहां पर तैनात सैनिको से अगर आप …

Read More »

Mosques Of India

Mosques Of India

Call it mosque, masjid, or dargah, they all refer to the same thing – ‘the dome of Allah’. India is home to a slew of mosques that dots the country’s skyline and tots up as a gentle reminder of the country’s Islamic past. It’s hard to miss the sandstone marvel of Fathepur Sikri or the imposing appeal of Charminar once …

Read More »