Tag Archives: Top 10 Love Songs in Hindi

क्यों मो पे रंग की मारी पिचकारी: बहादुर शाह जफर

क्यों मो पे रंग की मारी पिचकारी: बहादुर शाह जफर

वैसे तो होली पूरे भारत में मनाई जाती है पर अलग-अलग सांस्कृतिक अंचलों की होली की अपनी खासियत है। हां, एक बात जो सभी जगहों की होली में सामान्य है, वह है महिलाओं और पुरुषों के बीच रंग खेलने के बहाने अनूठे विनोदपूर्ण और शरारत से भरे प्रसंग। ये प्रसंग शुरू से होली की पहचान से जुड़े रहे हैं। और …

Read More »

रंग बरसे भीगे चुनर वाली: हरिवंश राय बच्चन

रंग बरसे भीगे चुनर वाली: हरिवंश राय बच्चन

सिलसिला 1981 में बनी भारतीय हिन्दी भाषा की रूमानी नाट्य फ़िल्म है। इसका निर्देशन यश चोपड़ा ने किया और इसमें अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, रेखा, संजीव कुमार और शशि कपूर मुख्य कलाकार हैं। यह फिल्म उस समय के तीन सितारों अमिताभ-जया-रेखा के वास्तविक जीवन के कथित प्रेम त्रिकोण से बहुत प्रेरित है, जो उस समय के प्रेम प्रसंगों में सबसे …

Read More »

कोई भीगा है रंग से: समीर का होली पर फ़िल्मी गीत

कोई भीगा है रंग से - समीर

Mumbai Se Aaya Mera Dost is a 2003 Indian Hindi-language drama film starring Abhishek Bachchan, Lara Dutta and Chunky Pandey. The film is directed by Apoorva Lakhia. The film touched on the subject of the influence of television on village life. होली का त्यौहार आते ही पास पड़ोस में इस त्यौहार पर बनाए गए फिल्मी गीतों की धुनें सुनाई देने …

Read More »

अंग से अंग लगाना: आनंद बख्शी का होली फ़िल्मी गीत

अंग से अंग लगाना सजन - डर

अंग से अंग लगाना: आनंद बख्शी अरे जो जी में आए, तुम आज कर लो चाहो जिसे इन बाँहो में भर लो अंग से अंग लगाना सजन हमें ऐसे रंग लगाना गालों से ये गाल लगा के, नैनों से ये नैन मिला के होली आज मनाना सजन हमें ऐसे रंग लगाना अंग से अंग लगाना… ऊपर ऊपर रंग लगय्यो, ना …

Read More »

Navratri Songs with lyrics: Navratri Videos

Navratri Songs

Navratri – the nine nights of worshiping, devotion and celebration – is observed throughout the country and every region has a unique way of celebrating it. Despite the difference in the mode of celebration, the word Navratri at once brings to our mind Goddess Durga, lights, devotional music, crowded puja venue full of smiling faces, people dancing to the beats …

Read More »

भैया मेरे राखी के बंधन को निभाना: शैलेन्द्र

भैया मेरे राखी के बंधन को निभाना: शैलेन्द्र

भैया मेरे राखी के बंधन को निभाना: शैलेन्द्र – Chhoti Bahen is a 1959 Indian Hindi film that stars Nanda in the title role, Balraj Sahni and Rehman. The movie was a remake of the 1952 Tamil movie “En Thangai” which was later remade in Kannada in 1967 as “Onde Balliya Hoogalu” and in Telugu in 1967 as “Aada Paduchu”. …

Read More »

हुल्ले नी माइ हुल्ले दो बेरी पत्ता झुल्ले: लोहड़ी लोक गीत

Lohri Folk Song हुल्ले नी माइ हुल्ले दो बेरी पत्ता झुल्ले

Lohri is a popular winter time Punjabi folk festival, celebrated primarily by Sikhs and Hindus from the Punjab region in the northern part of Indian subcontinent. The significance and legends about the Lohri festival are many and these link the festival to the Punjab region. Many people believe the festival commemorates the passing of the winter solstice. Lohri marks the …

Read More »

सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा हो: लोहड़ी लोक गीत

Lohri Folk Song सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा हो

सुंदर मुंदरिये हो, तेरा कौन बेचारा होदुल्ला भट्टी वाला हो, दुल्ले ती विआई हो,शेर शकर पाई हो, कुड़ी दे जेबे पाई हो,कुड़ी कौन समेटे हो, चाचा गाली देसे होचाचे चुरी कुटी हो, जिम्मीदारा लूटी हो,जिम्मीदार सुधाये हो, कुड़ी डा लाल दुपटा हो,कुड़ी डा सालू पाटा हो, सालू कौन समेटे हो,आखो मुंडियों ताना ‘ताना’, बाग़ तमाशे जाना ‘ताना’,बागों मनु कोडी लबी …

Read More »

मकई दा दाना, आना ले के जाना: लोहड़ी लोक गीत

Lohri Folk Song मकई दा दाना, आना ले के जाना

मकई दा दाना, आना ले के जाना “Mukai da dana, Aana lei ke janahulle hulareasi ganga chalesas sora chalejeth jathani chaledyor darani chalepairi shaunkan chalihulle hulareasi ganga pohnchesas sora pohnchejeth jathani pohnchedyor darani pohnchepairi shaunkan pohnchihulle hulareasi ganga nahte shava or hullejeth jathani nahtedyor darani nahtepairi shaunkan nahtiihulle hulareshaunkan paili paurishaunkan duji paurishaunkan tiji paurimaiti dhakka dittashaukan vichhe rud gayihulle …

Read More »

लो आ गयी लोहड़ी वे: जावेद अख्तर

लो आ गयी लोहड़ी वे - जावेद अख्तर

लो आ गयी लोहड़ी वे,बना लौ जोड़ी वे,कलाई कोई यू थामो, ना जावे छोड़ी वे,ना जावे छोड़ी वेछूठ ना बोली वे,कुफर ना टोली वे,जो तुने खायी थी कसमे, इक इक तोड़ी वे,इक इक तोड़ी वेलो आ गयी लोहड़ी वे,बना लो जोड़ी वे…तेरे कुर्बान जावा, तेरी मर्ज़ी जान जावा,तोह हर बात मान जावा, तेरी सोनिये…ओय-ओय-ओय तेरे कुर्बान जावातेनु मै जान-दिया, खूब …

Read More »