Home » Tag Archives: Top 10 Life And Time Songs in Hindi

Tag Archives: Top 10 Life And Time Songs in Hindi

रुक जाना नहीं तू कहीं हार के: मजरूह सुल्तानपुरी

Majrooh Sultanpuri Inspirational Teacher's Day Song रुक जाना नहीं तू कहीं हार के

महान शायर और गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी का अपनी जिंदगी और शायरी के बारे में नजरिया कुछ ऐसा ही था जैसा कि उनका यह गीत कि ‘एक दिन बिक जाएगा माटी के मोल, जग में रह जाएंगे प्यारे तेरे बोल‘। मुशायरों और महफिलों में मिली शोहरत तथा कामयाबी ने एक यूनानी हकीम असरारूल हसन खान को फिल्म जगत का एक अजीम …

Read More »

Diwali Diya: Earthen Lamps For Diwali Decoration

Diwali Diya: Hindu Culture & Tradition

Diya is a small earthen lamp primarily lit during Diwali, the festival of lights. Also, known as ‘deep’, diya is traditionally made of clay. Lighting a deep during aarti is a custom in the Hindu culture. During Diwali, the earthen lamps are used for illuminating the entire home and premises, apart from aarti. The diya is filled with ghee or …

Read More »

Diwali Songs: Popular Bollywood Diwali Songs

Diwali Songs: Hindu Culture & Tradition

Diwali is a five-day extravaganza in India, the land of colorful festival. On the occasion of Diwali, people spread good cheer and indulge themselves in a number of activities, one of them being throwing parties and get together. While partying during the festive season, people would dance to the tune of peppy Diwali Songs that boost up their celebrating mood. …

Read More »

साथी हाथ बढ़ाना: साहिर लुधियानवी का श्रमिक दिवस विशेष फ़िल्मी गीत

साथी हाथ बढ़ाना - साहिर लुधियानवी - Labour Day Film Song

नया दौर का एक यादगार गीत। फिल्म नया दौर आजादी के बाद देश में किस तरह के बदलाव आए और लोग किस तरह आधुनिकता की ओर अपने कदम बढ़ाने लगे थे, इसे भी समझाया गया था। यह फिल्म भारतीयों के संघर्ष की कहानी है, जिसे बखूबी पर्दे पर उतारा निर्देशक बी.आर. चोपड़ा ने. 1957 में आई इस फिल्म से सिनेमा …

Read More »

सारी दुनिया का बोझ हम उठाते हैं: आनंद बक्षी का श्रमिक दिवस पर फ़िल्मी गीत

सारी दुनिया का बोझ हम उठाते हैं - आनंद बक्षी - Labour Day Filmi Song

आनन्द बक्षी यह वह नाम है जिसके बिना आज तक बनी बहुत बड़ी-बड़ी म्यूज़िकल फ़िल्मों को शायद वह सफलता न मिलती जिनको बनाने वाले आज गर्व करते हैं। आनन्द साहब चंद उन नामी चित्रपट (फ़िल्म) गीतकारों में से एक हैं जिन्होंने एक के बाद एक अनेक और लगातार साल दर साल बहुचर्चित और दिल लुभाने वाले यादगार गीत लिखे, जिनको …

Read More »