Home » Tag Archives: Festivals Stories for Children

Tag Archives: Festivals Stories for Children

All in a row: Diyas light up more than just our homes

All in a row: Diyas light up more than just our homes

Pradeep decided that they would use electrical lights in multicolored to decorate the house for the festival. “How many days to Deepavali?” Pradeep asked his dad. “Four,” said Dad without looking up from the newspaper. “Oh… ho… we don’t have much time. We have to decorate the house with colorful electrical bulbs and multicolored string lights.” “I think it would …

Read More »

बाला की दिवाली: गरीबों की सूनी दिवाली की कहानी

बाला की दिवाली: गरीबों की सूनी दिवाली की कहानी

“माँ… पटाखे लेने है मुझे” बाला ने दिवार के कोने में बैठे हुए कहा। “कहाँ से ले दूँ?” बाला की माँ, शांता का तुरंत जवाब आया। “पर दिवाली में तो सब बच्चे पटाखे फोड़ते है” बाला ने एक और कोशिश करते हुए कहा। “हाँ, पर उनके मम्मी पापा के पास पैसे होते है?” माँ ने रस्सी पर कपड़े डालते हुए …

Read More »

Friends Again: Inspirational Story of Classmates

What is Mythological Significance of Holi?

“Come on Anmol, you can do it”, shouted Rohan. Anmol and Rohan were class six students of Saint Francis High School. The inter-house cross country for the junior group was in its last phase. Anmol, who was in Shivaji House, had completed the stretch from the school canteen, the starting point of the race, to the Stadium. Now all that …

Read More »

4th of July Funny Story: Extended family cook-out

4th of July Funny Short Story - Extended family cook-out

One year, Jim’s family was having the “extended family” 4th of July cookout at their home. One of the special treats that year was the lighting of the fireworks (Roman candles, bottle rockets, missile batteries, etc.) they had bought out of state (they’re illegal in their state, of course!) Just before they were to arrive, a cousin calls, saying their …

Read More »

होली स्पेशल बाल कहानी: राजा की होली केक के संग

होली स्पेशल: राजा की होली केक के संग

मिट्टी की सोंधी महक के साथ ही ताजे केक की सुगंध हवेली के चारों ओर फ़ैल चुकी थी। पुरानी सी हलके पीले रंग की हवेली, जो अब तक गुमनाम पड़ी हुई थी आजकल “केक वाली हवेली” के नाम से जानी जाती थी। “केक वाली हवेली” का नाम गाँव वालों का ही दिया हुआ था क्योंकि उस हवेली को दूर से …

Read More »

और रंग मुस्कुरा दिए: मंजरी शुक्ला

और रंग मुस्कुरा दिए: मंजरी शुक्ला

होली का त्यौहार आने वाला था। सारे घर में खुशी की लहर दौड़ रही थी। पापा मिठाइयों की लिस्ट बनाने में व्यस्त थे तो मम्मी नए कपड़े और पूजा का सामान लिख रही थी। मैं अपने दोस्तों के साथ ढेर सारे रंग और पिचकारियों के बारे में बात करता रहता था। सभी चिंता में थे कि कौन सी वाली पिचकारी …

Read More »

The Cratchits’ Christmas Dinner: Charles Dickens

Charles Dickens Christmas Story: The Cratchits' Christmas Dinner

Scrooge and the Ghost of Christmas Present stood in the city streets on Christmas morning, where (for the weather was severe) the people made a rough but brisk and not unpleasant kind of music, in scraping the snow from the pavement in front of their dwellings, and from the tops of their houses, whence it was mad delight to the …

Read More »

उपकार: क्रिसमस पर बाल कहानी

उपकार Short Humorous Christmas story in Hindi

“पापा… आपको पता है ना कि परसों क्रिसमस है।”पापा ने मुस्कुराते हुए आठ साल के हैरी की तरफ़ देखा जो अपनी भूरी आँखें उनके चेहरें की ओर गड़ाए बैठा था। उसके गोरे चेहरे पर घुँघराले भूरे बाल धूप में चमकने के कारण सुनहरे लग रहे थे।उन्होंने उसे प्यार से उठाकर गोदी में बैठा लिया।हैरी लड़ियाते हुए बोला – “इस साल …

Read More »