धनतेरस उद्धरण और सन्देश Dhanteras Quotes & SMS in Hindi

धनतेरस उद्धरण और सन्देश विद्यार्थियों के लिए

धनतेरस उद्धरण और सन्देश विद्यार्थियों के लिए: जिस प्रकार देवी लक्ष्मी सागर मंथन से उत्पन्न हुई थी उसी प्रकार भगवान धनवन्तरि भी अमृत कलश के साथ सागर मंथन से उत्पन्न हुए हैं। देवी लक्ष्मी हालांकि की धन देवी हैं परन्तु उनकी कृपा प्राप्त करने के लिए आपको स्वस्थ्य और लम्बी आयु भी चाहिए यही कारण है दीपावली दो दिन पहले से ही यानी धनतेरस से ही दीपामालाएं सजने लगती हैं।

कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन ही धन्वन्तरि का जन्म हुआ था इसलिए इस तिथि को धनतेरस के नाम से जाना जाता है। धन्वन्तरी जब प्रकट हुए थे तो उनके हाथो में अमृत से भरा कलश था। भगवान धन्वन्तरी चुकि कलश लेकर प्रकट हुए थे इसलिए ही इस अवसर पर बर्तन खरीदने की परम्परा है। कहीं कहीं लोकमान्यता के अनुसार यह भी कहा जाता है कि इस दिन धन (वस्तु) खरीदने से उसमें 13 गुणा वृद्धि होती है। इस अवसर पर धनिया के बीज खरीद कर भी लोग घर में रखते हैं। दीपावली के बाद इन बीजों को लोग अपने बाग-बगीचों में या खेतों में बोते हैं।

धनतेरस के दिन चांदी खरीदने की भी प्रथा है। अगर सम्भव न हो तो कोइ बर्तन खरिदे। इसके पीछे यह कारण माना जाता है कि यह चन्द्रमा का प्रतीक है जो शीतलता प्रदान करता है और मन में संतोष रूपी धन का वास होता है। संतोष को सबसे बड़ा धन कहा गया है। जिसके पास संतोष है वह स्वस्थ है सुखी है और वही सबसे धनवान है। भगवान धन्वन्तरी जो चिकित्सा के देवता भी हैं उनसे स्वास्थ्य और सेहत की कामना के लिए संतोष रूपी धन से बड़ा कोई धन नहीं है। लोग इस दिन ही दीपावली की रात लक्ष्मी गणेश की पूजा हेतु मूर्ति भी खरीदते हें।

  • आज से ही आपके यहाँ धन की बरसात हो;
    माँ लक्ष्मी का वास हो, संकटों का नाश हो;
    हर दिल पर आपका राज हो;
    उन्नति का सर पर ताज हो;
    और घर में शांति का वास हो!
    शुभ धनतेरस!
  • दीप जले तो रोशन आपका जहान हो;
    पूरा आपका हर एक अरमान हो;
    माँ लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहे आप पर;
    इस धनतेरस पर आप बहुत धनवान हों!
    शुभ धनतेरस!
  • सोने का रथ, चांदनी की पालकी;
    बैठकर जिसमें है माँ लक्ष्मी आई;
    देने आपको और आपके पूरे परिवार को;
    धनतेरस की बधाई!
  • लक्ष्मी देवी का नूर आप पर बरसे;
    हर कोई आपसे मिलने को तरसे;
    भगवान आपको दे इतने पैसे;
    कि आप चिल्लर पाने को तरसें!
    शुभ धनतेरस!
  • लक्ष्मी देवी का नूर आपके ऊपर बरसे,
    हर कोई आपसे लोन लेने को तरसे,
    भगवान आपको दे ठेले भर भर के पैसे,
    की आप चिल्लर पाने को तरसे।
    हैप्पी धनतेरस
  • इस धनतेरस कुछ खास हो… दिलों मैं खुशियां,
    घर मैं सुख का वास हो…
    हर मोती पर आपका ताज़ हो…
    मिटे दूरियां, सब आपके पास हो…
    ऐसा धनतेरस आपका खास हो…
  • सोने का रथ, चांदनी की पालकी;
    बैठकर जिसमें है माँ लक्ष्मी आई;
    देने आपको और आपके पूरे परिवार को;
    धनतेरस की बधाई!
  • दीप जले तो रोशन आपका जहान हो;
    पूरा आपका हर एक अरमान हो;
    माँ लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहे आप पर;
    इस धनतेरस पर आप बहुत धनवान हों!
    शुभ धनतेरस!
  • धनतेरस का शुभ दिन आया,
    सबके लिए नयी खुशिया लाया,
    लक्ष्मी गणेश विराजे आपके घर में और सदा आप पे रहे सुखो कि छाया…
    हैप्पी धनतेरस
  • त्यौहार धनतेरस का फिर से है आया
    सबके लिए है खुशियां लाया
    भगवान् गणपति विराजे घर आपके जीवन में
    हो सदा सुख कि छाया
    हैप्पी धनतेरस!
  • सोने का रथ, चांदनी की पालकी,
    बैठकर जिसमें है माँ लक्ष्मी आई,
    देने आपको और आपके पूरे परिवार को,
    धनतेरस की बधाई…!
  • धन धान्य भरी है धनतेरस;
    धनतेरस का दिन है बड़ा ही मुबारक;
    माता लक्ष्मी है इस दिन की संचालक;
    आओ मिल करें पूजन उनका,
    जो हैं जीवन की उद्धारक।
    धनतेरस की शुभ कामनायें!
  • इस बार धनतेरस में “Reliance Jio 4G” sim ही लिया जाएगा
  • अगर ओलम्पिक गेम्स का आयोजन ‘धनतेरस’ या अक्षय तृतिया के दिन रखा जाये तो
    सारे गोल्ड, सिल्वर, ब्रोंज, पीतल – सभी मेडल भारतीय ले आयेंगे
  • धनतेरस पे हमने भी एक किलो
    सोना
    :
    :
    :
    :
    चांदी…
    :
    :
    :
    च्यवनप्राश खरीदा।
    क्यों की सर्दी आ गई है।
    और खाया पिया ही साथ जाता है…
    बाक़ी सब यही रह जाता है…
  • काहे का धनतेरस ?
    :
    :
    :
    :
    :
    लोग सोना खरीद रहे है इधर अगले नैट पैक का जुगाड़ नी हो रहा

Check Also

Republic Day Quotes in English

Republic Day Quotes For Students And Children

Republic Day Quotes For Students And Children: One of the most significant national festivals of …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *