Hindi Song Dedicate To Father पापा की परी

पापा की परी Hindi Song Dedicated To Father

पापा की परी: देव कोहली

Ladies and gentlemen
A son is a son till he gets himself a wife, but
a daughter is a daughter all her life.

पापा की परी हूँ मैं
ओ ओ ओ ओ ओ – २
आई मैं आई नीले गगन से
लाई मैं लाई तारों को चुन के
मेरे लिये जो बना है
सुन ले जहाँ तू छुपा है
पाना मुझे मुश्क़िल है
फूलों जैसा मेरा दिल है
आ कर देख ले
पापा की परी हूँ मैं
को — ओ ओ ओ ओ ओ – २
हे  ईआ ईआ ईआ – २

हूँ मम्मी के दिल में इक बात आई
जल्दी से लड़की की कर दो सगाई
लड़के का पहले फोटो दिखाया
फिर मुझसे पूछा पसन्द आया
मैने कहा ना रे ना ना ना ना

लड़का जो देखने आयेगा मुझको
ना मैं शरमाउँगी ना पलकें झुकाउँगी
ना मुस्कुराउँगी ना मैं रिझाउँगी
ना मैं उसको चलके देखाउँगी
चाहे कहे वो मुझसे वाह वाह वाह वाह
को — ओ ओ ओ ओ ओ – २
मेरे लिये जो बना है… आ कर देख ले
पापा की परी हूँ मैं
को — ओ ओ ओ ओ ओ – २

इट’ ऑर  वर्ल्ड, इट’ ऑर लाइफ  – २

सब की सुनूँगी दिल की करूँगी
ऐसे-वैसे को मैं ना चुनूँगी
मैने ये कब से सोच लिया है
परखूँगी उसको फिर हाँ करूँगी
वरना कहूँगी उससे जा जा जा जा

हूँ मेरा जो होगा कुछ ऐसा होगा
जो प्यार बन कर दिल में रहेगा
मम्मी को मेरी समझेगा मम्मी
पापा को मेरे पापा कहेगा
फिर मैं कहूँगी उससे हाँ हाँ हाँ हाँ
को — ओ ओ ओ ओ ओ – २
मेरे लिये जो बना है… आ कर देख ले
पापा की परी हूँ मैं – ५

को — ओ ओ ओ ओ ओ – २
कम ऑन आल गर्ल्स हियर ऑन स्टेज प्लीज
पापा’ज डार्लिंग डॉटर! ज्वाइन इन

∼ देव कोहली

चित्रपट : मैं प्रेम की दीवानी हूँ (२००३)
निर्माता : अजित कुमार बर्जात्या, कमल कुमार बर्जात्या, राजकुमार बर्जात्या
निर्देशक : सूरज बर्जात्या
लेखक : सुबोध  घोष
गीतकार : देव कोहली
संगीतकार : अनु मलिक
गायक : सुनिधि चौहान, करीना कपूर
सितारे : ह्रितिक रोशन, करीना कपूर, अभिषेक बच्चन

Main Prem Ki Diwani Hoon, is a 2003 Indian Hindi romantic comedy drama film by Sooraj Barjatya and produced by Rajshri Productions. The film is a remake of the 1976 film Chitchor and features Abhishek Bachchan, Hrithik Roshan and Kareena Kapoor in the lead roles. It had a worldwide release on 27 June 2003, and was a critical and commercial failure.

Check Also

Thai Pongal - English poem on Pongal Festival

Thai Pongal: English poem on Pongal Festival

Thai Pongal Milk Rice the Golden child came – granting immeasurable ecstasy in her cooking …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *