Home » Poems For Kids » Poems In Hindi » आके तेरी बाँहों में – वंश
आके तेरी बाँहों में – वंश

आके तेरी बाँहों में – वंश

आके तेरी बाँहों में, हर शाम लगे सिंदूरी
मेरे मन को महकाए, तेरे मन की कस्तूरी।

Vansh Movie Posterआके तेरी बाँहों में, हर शाम लगे सिंदूरी
मेरे मन को महकाए, तेरे मन की कस्तूरी।

महकी हवाए उड़ता आंचल लत घुंघराले काले बादल
प्रेम सुधा नैनो से बरसे, पी लेने को जीवन तरसे
बाहो मे कास लेने दे, परीत का चुंबन देने दे
इन अधरो से छलक ना जाए, यौवन रस अंगूरी।

सुन्दरता का बहता सागर, तेरे लिए है रूप के बादल
इन्द्रधनुष के रंग चुरू, तेरी जुल्मी मांग सजाऊ
दो फूलो के खिलने का, वक्त यही है मिलाने का
आजा मिल के आज मिटा दे, थोड़ी सी ये दूरी।

Aake Teri Bahon Mein, Har Shaam Lage Sindoori – Vansh

Film: Vansh
Singers: Lata Mangeshkar, Sripathi Panditaradhyula Balasubrahmanyam
Composers: Anand Milind
Actors: Anupam Kher, Amrish Puri, Kader Khan, Siddharth, Sudesh Berry
Released: 1992

Check Also

The Buddha At Kamakura - Rudyard Kipling English Poem

The Buddha At Kamakura: Rudyard Kipling Poem For Students & Children

Rudyard Kipling was born on December 30, 1865, in Bombay, India. He was educated in …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *